टोक्यो पैरालिंपिक में देश को दूसरा मेडल: ऊंची कूद में निषाद कुमार ने सिल्वर मेडल जीता, 2.06 मीटर की जंप लगाई

 29 Aug 2021 06:26 PM

टोक्यो। टोक्यो पैरालंपिक में रविवार का दिन भारत के लिए लकी रहा। सुबह टेबल टेनिस में भाविनाबेन के बाद ऊंची कूद में निषाद कुमार ने भी सिल्वर मेडल जीत लिया। निषाद ने देश को पुरुष हाई जंप में दूसरा मेडल दिलाया है। निषाद ने 2.06 मीटर की ऊंची जंप लगाई। इसके साथ ही नया एशियाई रिकॉर्ड भी कायम हो गया है। 

निषाद शुरुआत से ही बेहतरीन फॉर्म में नजर आए। उन्होंने पहले प्रयास में ही 2.02 मीटर की कूद को पार किया। इसके बाद दूसरे प्रयास में 2.06 मीटर की जंप को पार करके नया एशियाई रिकॉर्ड बनाया। हालांकि, 2.09 मीटर की जंप को तीनों ही कोशिश में पार करने में असफल रहे, जिसके चलते उनको गोल्ड मेडल जीतने का सपना अधूरा रह गया। पैरालंपिक 2020 में भारत ने नाम अब दो मेडल हो गए हैं।

डिस्कस थ्रो में विनोद कुमार ने जीता ब्रॉन्ज मेडल
टोक्यो पैरालंपिक में भारत को तीसरा मेडल मेडल मिल गया है। डिस्कस थ्रो में विनोद कुमार ने ब्रॉन्ज मेडल जीता है। मेंस F52 डिस्कस थ्रो कैटेगरी में विनोद 19.91 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ तीसरे स्थान पर रहे। उन्होंने भी अपने थ्रो से एशियन रिकॉर्ड कायम किया है। इस इवेंट में भारत के एक अन्य एथलीट राम पाल पांचवें स्थान पर रहे। पैरालिंपिक स्पोर्ट्स की T47 कैटेगरी में ऐसे एथलीट हिस्सा लेते हैं, जिनका कोई एक हाथ कोहनी से नीचे कटा हुआ होता है। अमेरिका को रॉड्रिक टाउनसेंड ने 2.15 मीटर की जंप के साथ गोल्ड मेडल जीता। डलास ने वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया। वहीं, निषाद कुमार ने एशियन रिकॉर्ड बनाया।

सुबह भाविना पटेल ने चांदी जीती थी
सुबह टेबल टेनिस में भाविना पटेल ने भारत का पैरालंपिक 2020 में खाता खोला और महिला टेबल टेनिस की क्लास-4 कैटेगरी में सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया। हालांकि, उनको फाइनल मुकाबले में चीन की खिलाड़ी यिंग झोऊ के हाथों 0-3 से हार का सामना करना पड़ा और उनका गोल्ड मेडल जीतने का सपना अधूरा रह गया।

प्रधानमंत्री ने दी बधाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर निषाद कुमार को सिल्वर जीतने की बधाई दी। उन्होंने लिखा- टोक्यो से एक और खुशखबरी आई है। निषाद की जीत से काफी खुश हूं। वे शानदार एथलीट हैं और उनके पास बेहतरीन हुनर है। मोदी ने इससे पहले देश को टोक्यो पैरालिंपिक का पहला मेडल जीतने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन पटेल को भी फोन कर बधाई दी थी।

 

निषाद ने बेंगलुरु में ट्रेनिंग की है
निषाद कुमार हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के रहने वाले हैं। उन्होंने बेंगलुरु के कोचिंग कैंप में महीनों तक कड़ी मेहनत की है। सुबह से उनके गांव में लगातार दुआएं मांगी जा रही थी। मेडल मिलने के साथ ही गांव में खुशियों का माहौल है।

तीन साल पहले शुरू किया खेल
निषाद ने साल 2019 में खेलों में डेब्यू किया था। पैरालिपिंक सिल्वल मेडल जीतते हुए उन्होंने एशियन रिकॉर्ड की बराबरी भी कर दी। यह निषाद कुमार का व्यक्तितगत बेस्ट प्रदर्शन है। भारत के एक अन्य ऐथलीट राम पाल का खेल भी सराहनीय रहा। 1.94 मीटर की जंप के साथ वह पांचवें पोजिशन पर रहे, उनका भी यह करियर बेस्ट परफॉर्मेंस है।

टोक्यो पैरालिंपिक्स :भारत को भाविनाबेन ने टेबल टेनिस में दिलाया सिल्वर मैडल