शनिचरी अमावस्या आज, विशेष संयोग में की जाएगी पूजा-अर्चना, मंदिरों में की गई कोरोना गाइडलाइन के पालन की व्यवस्था

 10 Jul 2021 09:11 AM

भाेपाल। शनिदेव की विशेष पूजा अर्चना करने का पर्व, शनिश्चरी अमावस्या आज 10 जुलाई को मनाई जा रही है। शनिवार को होने वाली अमावस्या के कारण इसे शनिचरी अमावस्या कहते है। शुक्रवार को पितृ कार्य की अमावस्या मनाई गई। आज देवकार्य की अमावस्या होगी। ज्योतिषाचार्य विष्णु राजौरिया के अनुसार अमावस्या तिथि का प्रारंभ 9 जुलाई को सुबह 5:56 बजे होगा तथा अमावस्या तिथि का समापन 10 जुलाई को सुबह 6:46 बजे होगा। शनिवार को सूर्योदय 5:56 पर होगा, अत: शनिवार को लगभग 1 घंटे अमावस्या तिथि रहेगी। शनिवार होने के कारण 10 जुलाई को शनिचरी अमावस्या मनाई जाएगी। इस दिन शनि देव का पूजन करने से शनि देव की कृपा प्राप्त होती है। इस बार शनिश्चरी अमावस्या पर क्षत्र नामक योग भी बन रहा है।

मंदिरों में शनिदेव को मनाने पहुंचेंगे श्रद्धालु

ऐसे में शनिवार को शहर के विभिन्न शनि मंदिरों पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए विशेष पूजा अर्चना की जाएगी। साथ ही हनुमानजी की भी लोग विशेष पूजा करेंगे। अगली शनिचरी अमावस्या 4 दिसंबर 2021 को पड़ेगी। शनिश्चरी अमावस्या में बरखेड़ी स्थित प्राचीन शनि मंदिर, ग्यारह सौ क्वाटर्स स्थित शनि मंदिर, कमला पार्क स्थित शनि मंदिर, बोर्ड आफिस चौराहा स्थित शनि मंदिर और बीएसएनएल आफिस के सामने शनि मंदिर समेत अनेक मंदिरों पर श्रद्धालुओं की खासी भीड़ होगी।

शनिचरी अमावस्या पर जरूरत मंदों को करें दान
पुण्य लाभ के लिए श्रद्धालु शनिचरी अमावस्या के दौरान शनिदेव से जुड़ी कुछ चीजों का दान कर सकते हैं। इस दिन खासतौर से हनुमान जी की पूजा जरूर करनी चाहिए। इसके अलावा जरूरतमंद व्यक्तियों को दान देना चाहिए। इस दिन काले जूते, काला कंबल, उड़द की दाल आदि दान का जरूरतमंदों को दान करने से पुण्य लाभ प्राप्त होता है। इसके अलावा सरसों का तेल, काला तिल, काला छाता, ताला, अंगूठी व अन्य चीजें भी दान की जा सकती हैं। अमावस्या के दिन शनिदेव को काला तिल, तेल व काला कपड़ा चढ़ाया जाता है। इस दौरन श्रद्धालुओं को यह मंत्र जाप करना चाहिए। इसके जाप करने से शनिदेव की कृपा बनी रहती है। परेशानियां दूर होती हैं।

शनिदेव को प्रसन्न करने वाले मंत्र
ऊँ शं शनैश्चाराय नम:
ऊँ प्रां प्रीं प्रौं स: शनये नम:

इन राशियों पर शनि की ढैया व साढ़ेसाती 

कुल 5 राशियों पर शनि की ढैया व साढ़ेसाती चल रही है जिनमें मिथुन, तुला, धन, मकर और कुंभ राशि शामिल है। इनमें तुला और मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या जबकि धनु, मकर और कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है।