सागर के प्रह्लाद की 20 साल बाद पाकिस्तान की जेल से रिहाई, 2 दिन बाद अटारी बॉर्डर पहुंचेंगे

 28 Aug 2021 01:53 PM

गौरझामर इलाके के प्रह्लाद राजपूत करीब 20 साल बाद पाकिस्तान की जेल से छूट गए हैं। उनकी रिहाई के लिए परिजन सालों से उम्मीद लगाए थे। 2 दिन बाद उन्हें वतन लाया जाएगा। यह खबर सुनते ही परिजन की आंखों में आंसू आ गए। इस संबंध में विदेश मंत्रालय ने बीएसएफ को भी सूचित किया है।

मध्य प्रदेश के सागर जिले के पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह ने बताया कि गौरझामर के घोसी पट्टी गांव में रहने वाले प्रह्लाद सिंह पुत्र कुंदीलाल सिंह राजपूत साल 1998 में घर से लापता हो गए थे। परिवार वालों ने तलाश किया, लेकिन कहीं नहीं मिले। प्रह्लाद मानसिक रूप से कमजोर थे। इसी बीच साल 2014 में परिवार वालों को जानकारी मिली कि प्रह्लाद पाकिस्तान पहुंच गए हैं और वहां की जेल में बंद हैं। कुछ दिन पहले परिवार वालों ने एसपी से मुलाकात की और जानकारी दी। एसपी सिंह ने विदेश मंत्रालय से बात की। फोटो मंगाकर वेरिफिकेशन कराया। इसके बाद प्रह्लाद के जेल से रिहा होने की प्रक्रिया शुरू की गई। 

भारत लौटी 18 सालों से पाकिस्तान की जेल में बंद हसीना, बोली- लगता है जैसे स्वर्ग में आ गई हूं

30 अगस्त को अमृतसर पहुंच जाएंगे सागर
बताया गया कि पाकिस्तान स्थित भारतीय दूतावास से सूचना मिली है कि बाघा अटारी बॉर्डर से 30 अगस्त को प्रह्लाद को भारत भेजा जाएगा। प्रह्लाद सोमवार को अमृतसर पहुंच जाएगा। लंबे समय से अपने बेटे का इंतजार कर रहे परिजन की आंखों में खुशी के आंसू देखे जा रहे हैं।