पुलिसवाले को 15 दिन पहले गोली मारने वाला लुटेरा गिरफ्तार, महंगे शौक करने के लिए लूट करता था

 31 Aug 2021 02:33 PM

ग्वालियर। गोला का मंदिर इलाके में 15 दिन पहले लूट करते वक्त एक सिपाही को गोली मारने वाला लुटेरा पकड़ लिया गया है। पुलिस ने उसे यूपी के मैनपुरी से पकड़ा है। ये गिरोह का मास्टमाइंड है। एक महीने पहले इन्द्रमणि नगर में चेन लूटी थी। इसके दो साथी पहले ही पकड़े जा चुके हैं। आरोपी महंगे शौक रखते हैं। लूट के बाद अय्याशी करने के लिए राजस्थान भाग जाते थे।

गोला का मंदिर थाना पुलिस के मुताबिक, सूचना मिली थी कि लूट का विरोध करने पर आरक्षक को गोली मारने वाला बदमाश नितिन जादौन रेलवे पटरी के पास देखा गया है। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया। पूछताछ में उसने बताया कि 14 अगस्त को उसने आकाश जादौन और केके सिकरवार के साथ तीन महिलाओं से पिस्टल अड़ाकर चेन लूटने की कोशिश की थी। 

बाइकर्स ने कट्टा अड़ाकर महिला के गले से चेन लूटी, बेटे को कोचिंग छोड़ने जा रही थी महिला

पुलिसवाले ने रोका तो पैर में गोली मार दी थी
गोला का मंदिर इलाके में सूर्य मंदिर के पास जब वह एक महिला से लूट कर रहे थे तो उसने नकली चेन बताकर फेंक दी थी, इस पर उसने हवाई फायर किया था। मौके से गुजर रहे पुलिस जवान अजय भदौरिया रुक गए और गोली चलाने से रोकने लगे। इस पर खुद को बचाने के लिए उसके पैर में गोली मार दी थी। नितिन ने बताया कि वह वारदात के बाद मौज करने के लिए जयपुर और जोधपुर पहुंच जाते थे। 

बर्थडे पार्टी में फोटो शूट के लिए बुलाया और कैमरा छीनकर भाग निकले तीन बदमाश

इंद्रमणि नगर में भी नितिन ने लूट की थी
नितिन ने बताया कि उसने अपने साथियों के साथ इन्द्रमणि नगर में एक महिला से चेन खींची थी। पुलिस ने चेन बरामद कर ली है। पुलिस का मानना है कि आरोपी से पूछताछ के बाद अन्य वारदातों के संबंध में सुराग मिल सकता है। इससे पहले नितिन के दो साथी केके सिकरवार और आकाश जादौन को पड़ाव थाना पुलिस ने पकड़ा था। दोनों ने कांति नगर में महिला से लूट की थी। इस मामले में पड़ाव थाने के टीआई विवेक अष्ठाना ने बताया था कि आरोपी वारदात के बाद राजस्थान के शहरों में भाग जाते थे। वहां कुछ दिन मजे करने के बाद लौट आते थे।