ई-रिक्शा सवारियों के जेवर और रुपए चुराने वाली 5 महिलाएं पकड़ी, 10 लाख के जेवर मिले

 29 Aug 2021 05:11 PM

भिंड। शहर कोतवाली पुलिस ने एक ऐसे गिरोह की 5 महिलाओं पकड़ा है, जो ई-रिक्शा में सवार होने वाली महिलाओं को टारगेट बनाती थी। ये बैग से जेवर और रुपए चोरी कर रफूचक्कर हो जाती थीं। पुलिस ने इनके कब्जे से करीब 10 लाख रुपए के जेवर बरामद किए। इस गिरोह की सरगना के घर एसी से लेकर ऐशो-आराम का हर सामान मिला है। ये गिरोह राजस्थान, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में वारदातों को अंजाम देता था।

अपर पुलिस अधीक्षक कमलेश कुमार खरपुसे ने बताया मोहर्रम और रक्षाबंधन के मौके पर शहर में ई-रिक्शा और बाजार से महिलाओं के पास से जेवर चोरी की वारदात हुईं थीं। इन घटनाओं को अंतरराज्यीय महिला चोर गिरोह अंजाम दे रहा था। पुलिस ने सरगना समेत पांचों महिलाओं को पकड़ लिया। गिरोह से चार वारदात में चोरी किए जेवर में जंजीर, मंगलसूत्र, दो अंगूठी, एक जोड़ी चांदी की तोड़िया, सोने की एक हाय, बारी, नकदी, दूसरे केस में सोने की दो अंगूठी, नकदी, तीसरे केस में एक जोडी सुई धागा, एक जोड़ी झुमकी, सोने की तीन अंगूठी, सोने की एक माला, पेंडल और एक बड़ा मंगलसूत्र और चौथे केस में सोने की एक जंजीर, सोने की दो अंगूठी, एक जोड़ी झुमकी, नकद 2500 रुपए बरामद किए हैं।

आदिवासी युवक को चोरी के शक में पिकअप वाहन से बांधकर घसीटा, तड़प-तड़प कर मौत हुई, देखें वीडियो

सरगना नाम-पता बदलकर रहती थी
गिरोह की सरगना उर्मिला मोगिया नाम-पता बदलकर रहती है। उसके पास से कई आधार कार्ड मिले हैं, जो अलग नाम-पते के हैं। इस गिरोह ने भरतपुर, धौलपुर, ग्वालियर, भिंड और उत्तर प्रदेश में वारदात को अंजाम दिया है। 

ई-रिक्शा में सवारी को बीच में बैठाकर वारदात करती थीं
गिरोह की महिलाएं ई-रिक्शा में सवारी को अपने बीच में बैठातीं। सवारी इनके साथ बैठ जाती तो यह सबसे पहले अपनी साड़ी का पल्लू बैग के ऊपर डालती। साड़ी से बैग को ढकने के बाद गिरोह की एक महिला सवारी को बातों में उलझा लेती और दूसरी सदस्य बैग से जेवर और नकदी पार कर देतीं। गिरोह ने इसी तरह से लगातार वारदातें की हैं।

मिसरोद में रिटायर्ड डीएसपी के सूने घर से 90 हजार के जेवरात और सामान चोरी कर ले गए बदमाश

इनकी गिरफ्तारी हुई
शहर कोतवाली पुलिस ने गिरोह की सरगना उर्मिला मोगिया (35 साल) निवासी फारूकनगर (गुडगांव) हरियाणा हाल रेलवे स्टेशन के पास धौलपुर, हाल ग्राम घुसगमा (मुरैना), हाल भरतपुर राजस्थान, हाल चतुर्वेदी नगर भिंड, पिंकी आदिवासी (27 साल) निवासी आजाद नगर भरतपुर राजस्थान, शांति देवी मोगिया (50 साल) निवासी सुनारपुरा गोरमी जिला भिंड, सपना मोगिया (20 साल) निवासी सुनारपुरा गोरमी भिंड और राधा मोगिया निवासी सदर को गिरफ्तार कर लिया गया है।