वित्त मंत्री आज जारी करेंगी अगले चार साल में बेची जाने वाली सरकारी संपत्तियों की लिस्ट

 23 Aug 2021 05:49 PM

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन (एनएमपी) योजना की शुरुआत करेंगी, जिसमें अगले चार साल में बेची जाने वाली सरकारी संपत्तियों का लेखा-जोखा होगा। इसके अलावा वह विनिवेश के जरिये बड़ी राशि जुटाने के लिए आज संपत्तियों की बड़ी सूची जारी करने जा रही हैं।

इससे पहले रविवार को नीति आयोग ने बताया था कि एनएमपी के जरिए सरकार अगले चार साल के विनिवेश का खाका तैयार करेगी और निवेशकों को भी स्पष्ट संदेश मिलेगा। वित्तमंत्री विनिवेश के लिए पहचान की गई कंपनियों, पावरग्रिड, हाइवे आदि की सूची भी जारी करेंगी।

विनिवेश के लिए 6 लाख करोड़ की संपत्तियों की पहचान की गई

इससे पहले निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांत पांडेय कहा था कि सरकार ने विनिवेश के लिए करीब 6 लाख करोड़ की संपत्तियों की पहचान कर ली है। एनएमपी का जिक्र वित्तमंत्री ने 2021-22 के बजट भाषण में ही कर दिया था। उन्होंने कहा था कि इसके जरिये जुटाए फंड बुनियादी विकास क्षेत्र में लगाया जाएगा। उन्होंने बजट में इन्फ्रा और विनिवेश पर सबसे ज्यादा जोर दिया था।