भाजपा प्रभारी राव बोले- जावेद अख्तर की जगह पागलखाने में, दी बहस की चुनौती

 09 Sep 2021 12:02 AM

भोपाल प्रदेश भाजपा प्रभारी पी मुरलीधर राव ने कहा है कि इस्लाम नहीं, बल्कि मुद्दा है कट्टरपंथी इस्लाम, पहले यह मदरसों से चलता था। इसके प्रति सभी धर्म के लोगों को सजग होना चाहिए, क्योंकि राष्ट्र के लिए यह चुनौती है। पागलपन का नमूना देखना है तो फिल्म लेखक जावेद अख्तर को देख सकते हैं। तालिबान से कोई आरएसएस की तुलना कर सकता है तो उसकी जगह पागलखाना ही है। उन्होंने कहा कि अख्तर को चुनौती है जिस मंच-चैनल पर चाहें बहस कर लें। तालिबान, अफगानिस्तान में इसानियत खत्म कर चुका है जबकि संघ, संविधान का सम्मान करते हुए काम करता है। राव यहां साइबर योद्धाओं से 'कट्टरपंथी इस्लाम का राजनीतिक उदय एवं भारतीय सुरक्षा के लिए चुनौतियां' विषय पर संवाद कर रहे थे। तालिबान से संघ की तुलना करने संबंधी जावेद अख्तर के बयान पर वह जमकर बरसे। अपने उद्बोधन में उन्होंने कट्टरपंथियों, वामपंथियों, कांग्रेस, तालिबान, जनसंख्या नियंत्रण, तीन तलाक और उग्रवाद जैसे मुद्दों बेबाकी से अपने विचार रखे।

हम मुस्लिम विरोधी नहीं

भारत में कट्टरपंथी इस्लाम को कोई जगह नहीं। हम मोहम्मद गौरी, औरंगजेब, बाबर का विरोध करते हैं इसका मतलब यह नहीं कि हम मुसलमान विरोधी हैं। लेकिन कोई बाबर-औरंगजेब के नाम पर रोड बनाना चाहे तो ऐसा नहीं चलेगा।

आबादी नियंत्रण जरूरी

संवाद के दौरान सवाल-जवाब का सत्र भी चला। जनसंख्या संतुलन, कट्टरपंथ और विकास के सवाल पर वह बोले आबादी नियंत्रण को लेकर सहमति और लोकजागरण सभी की जिम्मेदारी है। विकास को लेकर देश के 135 करोड़ लोगों की जवाबदेही है।