वॉल्वो ने इजरायल की स्टार्टअप कंपनियों में किया निवेश

वॉल्वो ने इजरायल की स्टार्टअप कंपनियों में किया निवेश

मुंबई। वॉल्वो कार्स ने अपनी वेंचर कैपिटल इंवेस्टमेंट इकाई वॉल्वो कार्स टेक फंड के जरिये इजरायल की दो उभरती स्टार्टअप कंपनियों में निवेश किया है। दो स्टार्टअप कंपनियों यूवीईवाईई और एमडीजीओ का मुख्यालय तेल अबीव में है, जहां मोबिलिटी सेक्टर में नई कंपनियों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य के साथ वॉल्वो कार्स 2017 से ड्राइव के साथ मिलकर प्रयासरत है। यूवीईवाईई और एमडीजीओ ने क्रमश: गुणवत्ता और सुरक्षा को बेहतर करने की दिशा में ड्राइव के साथ मिलकर हाल के वर्षों में अपने कारोबार को आगे बढ़ाया है। टेक फंड की ओर से अमेरिका और यूरोप के बाहर यह पहला निवेश है। एमडीजीओ मेडिकल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के क्षेत्र में कार्यरत कंपनी है। उन्नत मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी की मदद से इसका लक्ष्य है कि किसी कार दुर्घटना की स्थिति में लगी चोट के हिसाब से व्यक्ति को सही इलाज सुनिश्चित करते हुए लोगों की जिंदगी बचाई जा सके। एमडीजीओ की टेक्नोलॉजी किसी दुर्घटना की स्थिति में कार से रियल टाइम डाटा को मेडिकल जानकारियों के साथ मिलाकर इस बात का अनुमान लगाएगी कि व्यक्ति को किस तरह की चोट लगी होगी। टेक्नोलॉजी ऐसा डाटा तैयार करेगी, जिसकी जरूरत वहां इलाज और सहायता के लिए पहुंचे लोगों को होगी। इस डाटा को क्लाउड प्लेटफार्म के जरिये चिकित्सकों और आपातकालीन कर्मियों तक पहुंचाया जाएगा, जिससे दुर्घटना का शिकार हुए व्यक्ति को बेहतर इलाज मिल सके। इस टेक्नोलॉजी की मदद से ऐसी स्थिति में होने वाली जटिलताओं से निपटना संभव हो पाएगा। वॉल्वो कार्स टेक फंड के सीईओ जकी फसीहुद्दीन ने कहा एमडीजीओ की टेक्नोलॉजी का लक्ष्य लोगों की जिंदगी बचाना है और यह लक्ष्य हमारे दिल के करीब है। बतौर कंपनी उनका उद्देश्य हमारी वॉल्वो कार्स के साथ अबाध तरीके से जुड़ना है, इसलिए उनके विकास में सहयोगी बनने की हमें खुशी है। टेक फंड ने यूवीईवाईई में भी निवेश किया है। इस स्टार्टअप फर्म ने ऐसी एडवांस्ड टेक्नोलॉजी विकसित की है, जिसकी मदद से आॅटोमेटिक तरीके से कार को हुए बाहरी नुकसान, डेंट और स्क्रेच की स्कैनिंग की जा सकती है। वॉल्वो कार्स इस कंपनी में केवल निवेश ही नहीं कर रही है, बल्कि अपने कारखानों में इसका प्रयोग करने की संभावना भी तलाश रही है, जिससे कारखाने में कार बनने के बाद बाहर से उसकी पूरी स्कैनिंग की जा सके।