तीन सितारा के आनंद : मुसाफिरों के लिए रेलवे का AC पॉड

तीन सितारा के आनंद :  मुसाफिरों के लिए रेलवे का AC पॉड
Graphical Representation

’इंदौर ।   ट्रेन लेट है, लिंक ट्रेन के आने में 4 से 6 घंटे की देरी है, तो मुसाफिर अब रेलवे के लक्जरी एसी पॉड में आराम फरमाएंगे। तीन सितारा होटल की तर्ज पर पॉड में आरामदायक बिस्तर, चिल्ड वाटर, चाय-कॉफी, फ्री वाई-फाई, मेगा स्क्रीन टीवी के साथ जरूरत की तमाम चीजें मुहैया कराई जाएंगी। इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) के पॉड में लुत्फ उठाने के लिए जेब पर भार न के बराबर पड़ेगा। इसकी बुकिंग रेट होटल के मुकाबले बहुत कम होगी। मुंबई सेंट्रल में 30 पॉड बनाने से इसकी शुरुआत होगी। पॉड में ठहरने का पहला अधिकार मुसाफिरों का होगा। वेकेंट होने पर आम आदमी भी इसे बुक कराकर आराम फरमाएंगे।

खाली रहे ‘पॉड’ आम आदमी ले सकेगा भाड़े पर

* रेलवे स्टेशन या उसके इर्द-गिर्द मुसाफिरों को आराम फरमाने के लिए आईआरसीटीसी एसी पॉड मुहैया कराएगा।

* ट्रेन या लिंक एक्सप्रेस के समय में चंद घंटों का फासला होने पर मिनी रूम (पॉड) बुक कराए जा सकेंगे। * रेलवे के रिटायरिंंग रूम या स्टेशन परिसर की रिक्त भूमि पर मूर्तरूप दिया जाएगा।

* पॉड (मिनी रूम) में एक बिस्तर, फ्री वाई-फाई, टीवी के साथ जरूरत का हर सामान मुहैया होगा।

* होटल के मुकाबले ये काफी सस्ते होंगे। इन्हें स्टेशन के इर्द-गिर्द ही बनाया जाएगा।

* आईआरसीटीसी के सर्वे में इसे काफी रिस्पांस मिला है।

* पश्चिम रेलवे में मुंबई सेंट्रल से इसकी शुरुआत होगी। यहां 30 पॉड बनेंगे।

* चेंजिंग रूम, चार्जिंग पॉइंट से लेकर हर सुविधा दी जाएगी।