मुंबई में फंसे स्टूडेंट ने घर जाने के लिए सोनू सूद से मांगी मदद

मुंबई में फंसे स्टूडेंट ने घर जाने के लिए सोनू सूद से मांगी मदद

कोरोना वायरस के कहर के बीच सरकार ने लॉकडाउन के चौथे चरण को लागू कर दिया है। अब देशभर में 31 मई तक लॉकडाउन लगा रहेगा। लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा दिक्कतों सामना प्रवासी मजदूरों और दूसरे राज्यों में फंसे गरीब छात्र-छात्राओं को करना पड़ रहा है। ऐसे में एक्टर सोनू सूद ने इस मुश्किल वक्त में आगे आकर लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है। हाल के दिनों में सोनू सूद ने कई बसों का इंतजाम अपने खर्चे पर किया और हजारों प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी उठाई। इसी बीच मुंबई से सटे थाणे में फंसे एक छात्र ने सोनू सूद से ट्विटर के जरिए मदद की गुहार लगाई, जिसको सोनू ने भी अनसुना नहीं किया और इशारों में उसे घर भेजना का भरोसा दिलाया। आकाश तिवारी नाम के छात्र ने ट्विटर पर सोनू सूद को टैग करते हुए लिखा, सर मैं छात्र हूं और थाणे में फंसा हुआ हूं। कोई भी मेरी मदद नहीं कर रहा। मेरी मां बहुत बीमार हैं। वो मेरे लिए बहुत परेशान हैं। मुझे उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जाना है। आप मेरी आखिरी उम्मीद हैं। मेहरबानी करें, मेरी मदद करेंगे। सोनू सूद ने आकाश के ट्वीट को रीट्वीट किया और लिखा,अपनी मां से कहो कि तुम उन्हें जल्द देखोगे। सोनू सूद ने आज ही कई बसों के जरिए सैकड़ों प्रवासी मजदूरों को उत्तर प्रदेश और बिहार भेजा है। इससे पहले सोनू सूद ने कर्नाटक के मजदूरों को उनके राज्य भेजने के लिए 10 बसों का इंतजाम किया था।