पीएम मोदी के साथ बैठकर चांद को धरती पर उतरता देखेंगे होनहार सिदक

पीएम मोदी के साथ बैठकर चांद को धरती पर उतरता देखेंगे होनहार सिदक

जबलपुर। गोरखपुर निवासी कर्नल सिंह छाबड़ा के बेटे सिदक छाबड़ा 7 सितम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ बैठकर चांद को धरती पर उतरता हुआ देखेंगे। सिदक का चयन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा आयोजित आॅनलाइन स्पेस क्विज के दौरान किया गया है। इस स्पर्धा में पूरे भारत से 50 तथा मध्यप्रदेश से 2 स्टूडेंट्स चुने गए हैं। सिदक छाबड़ा की मां रीना छाबड़ा बेटे की इस सफलता से बेहद खुश हैं। उनका कहना है कि सिदक बचपन से होनहार है और अब तक हर कक्षा में वह टॉप करता आया है। अनेक स्पर्धाओं में वह कामयाबी हासिल कर अवार्ड ले चुका है। पिता कर्नल सिंह छाबड़ा के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ इस ऐतिहासिक पल को देखना पूरे जबलपुर के लिए गौरव की बात है।

सपने में भी नहीं सोचा था

सिदक छाबड़ा स्माल वंडर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में 10वीं कक्षा के छात्र हैं। सिदक ने पीपुल्स समाचार से चर्चा करते हुए कहा कि उन्हें अपनी कामयाबी पर कोई शक नहीं था लेकिन प्रधानमंत्री के साथ बैठकर चंद्रयान-2 देखूंगा, यह सपने में भी नहीं सोचा था। सिदक का कहना है कि अगर बातचीत का कोई मौका मिला तो वे प्रधानमंत्री से देश की सुरक्षा और बेरोजगारी के विषय पर जरूर सवाल करेंगे। सिदक 5 सितंबर को बैंगलोर के लिए रवाना होंगे और इसरो के 7 सितंबर को आयोजित कार्यक्रम में हिस्सेदारी करेंगे।

बेहद खुश हैं मम्मी-पापा और दादा-दादी

गोरखपुर गुरुद्वारा कमेटी के पूर्व अध्यक्ष तथा वर्तमान सेके्रटरी राजेन्द्र सिंह छाबड़ा तथा दादी जोगिंदर कौर छाबड़ा अपने पोते की इस कामयाबी पर बेहद खुश हैं। उनका कहना है कि सिदक की इस कामयाबी ने उनके पूरे परिवार का मान न सिर्फ मध्यप्रदेश बल्कि समूचे देश में बढ़ाया है। दादा राजेन्द्र छाबड़ा के मुताबिक सिदक एक भाई व एक बहन हैं। बहन सृजन छाबड़ा न्यूयार्क में रहकर कम्प्यूटर साइंस की डिग्री कर रही है और वह भी अपने छोटे भाई के लिए हमेशा प्रेरणा स्त्रोत रही है।