सेंसेक्स 204 अंक टूटा, निफ्टी भी 11,200 अंक से नीचे आया

सेंसेक्स 204 अंक टूटा, निफ्टी भी 11,200 अंक से नीचे आया

मुंबई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को मिले-जुले वैश्विक रुख के बीच उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 203.65 अंक टूट गया। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स करीब 500 अंक घूमने के बाद अंत में 203.65 अंक या 0.55 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,114.88 अंक पर आ गया। कारोबार के दौरान सेंसेक्स नीचे-ऊपर 37,047.87 से 37,559.67 अंक के दायरे में रहा। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 65.05 अंक या 0.58 प्रतिशत के नुकसान से 11,157 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 11,136.95 अंक के निचले स्तर तक आया और 11,286.80 अंक का उच्च स्तर भी छुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में सबसे अधिक नुकसान यस बैंक और टाटा मोटर्स में रहा और ये शेयर आठ प्रतिशत टूट गए। इंडसइंड बैंक, कोल इंडिया, सन फार्मा, पॉवरग्रिड, भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक, टाटा स्टील, हिंदुस्तान यूनिलीवर, मारुति, एलएंडटी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर भी 3.66 प्रतिशत तक नीचे आ गए। वहीं दूसरी ओर बजाज फाइनेंस का शेयर सबसे अधिक 4.11 प्रतिशत के लाभ में रहा। आईटीसी, कोटक बैंक, इन्फोसिस और टीसीएस के शेयर 1.05 प्रतिशत लाभ में रहे। विशेषज्ञों ने कहा कि निवेशक आक्रामक रुख नहीं अपना रहे हैं। प्रत्येक तेजी के बाद वे मुनाफा काट रहे हैं। बाजार की निगाह तिमाही नतीजों तथा आम चुनाव पर है। उन्होंने कहा कि विदेशी कोषों की सतत निकासी से भी बाजार धारणा प्रभावित हुई। इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 2,011.85 करोड़ रुपए के शेयर बेचे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 2,242.91 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। एशियाई बाजारों में तेजी रही। जापान का निक्की 0.58 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.52, 

विदेशी बाजारों में मिश्रित रुख रहा

दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.53 और चीन का शंघाई कंपोजिट 1.91 प्रतिशत की तेजी में रहा। यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.06 प्रतिशत की बढ़त में और जर्मनी का डैक्स 0.46 प्रतिशत की गिरावट में रहा। बीएसई के 20 समूहों में तीन में तेजी और 17 में गिरावट रही। धातु में 2.08 प्रतिशत, बेसिक मटिरियल्स में 1.06, सीडीजीएस में 0.68, ऊर्जा में 0.28, वित्त में 0.51, स्वास्थ्य में 0.76, इंडस्ट्रियल्स में 1.31, दूरसंचार में 1.96, यूटिलिटीज में 1.69, आॅटो में 1.30, बैंकिंग में 0.88, पूंजीगत वस्तु में 0.97, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद में 0.18, तेल एवं गैस में 0.48, बिजली में 1.56, टेक में 0.33 और पीएसयू में 1.09 प्रतिशत की गिरावट रही। इनके अलावा वित्त में 0.10, आईटी में 0.12 और रियल्टी में 0.24 प्रतिशत की तेजी रही। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में पांच के शेयरों में लिवाली और 25 में बिकवाली हावी रही। बजाज फाइनेंस में 4.11 प्रतिशत, आईटीसी में 1.05, कोटक महिंद्रा बैंक में 0.68, इंफोसिस में 0.37 और टीसीएस में 0.01 प्रतिशत की बढ़त रही। येस बैंक के शेयरों में सर्वाधिक 8.01 प्रतिशत की गिरावट रही। टाटा मोटर्स में 8, इंडसइंड बैंक में 3.66, कोल इंडिया में 2.75, सन फार्मा में 2.67, पावर ग्रिड में 1.65, भारती एयरटेल में 1.41, एक्सिस बैंक में 1.40, टाटा स्टील में 1.39, हिंदुस्तान यूनीलीवर में 1.38, मारुति सुजुकी में 1.29, एलएंडटी में 1.16, आईसीआईसीआई बैंक में 0.98, एचडीएफसी में 0.97, बजाज आॅटो में 0.96, एनटीपीसी में 0.96, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 0.88, ओएनजीसी में 0.82, भारतीय स्टेट बैंक में 0.73, वेदांता में 0.59, एशियन पेंट्स में 0.51, हीरो मोटोकॉर्प में 0.50, रिलायंस इंडस्ट्रीज में 0.18, एचडीएफसी बैंक में 0.06 तथा एचसीएल टेक में 0.05 प्रतिशत की गिरावट रही।