सुरक्षा में लापरवाह कोचिंग सेंटरों को करें सील

सुरक्षा में लापरवाह कोचिंग सेंटरों को करें सील

जबलपुर। कलेक्टर श्री भरत यादव ने बच्चों की सुरक्षा के प्रति लापरवाही बरतने वाले कोचिंग सेंटरों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं। उन्होंने अनुविभागीय दंडाधिकारियों से कहा है कि वे अपने क्षेत्र के सभी कोचिंग संस्थानों की जांच करें और न्यूनतम सुरक्षा मापदण्डों का पालन नहीं करने वाले संस्थानों को सील करने की कार्यवाही करें। वे समय सीमा प्रकरणों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। कलेक्टर ने कहा कि कोचिंग संचालकों को सुधार के लिए पर्याप्त समय दिया जा चुका है। जांच और नोटिस के बाद इस बारे में उनकी बैठक भी बुलाई जा चुकी है। श्री यादव ने कहा कि कोचिंग संस्थानों को सील करने की कार्यवाही की शुरुआत ऐसे संस्थानों से की जाए जहाँ बच्चों की सुरक्षा के लिहाज से बताई गई कमियों को दूर करने की अभी तक कोई भी पहल नहीं की गई।

खाद्य पदार्थों पर रखें नजर

श्री यादव ने बैठक में स्वास्थ्य के लिये हानिकारक खाद्य पदार्थों के विङ्मीय पर सख्ती से रोक लगाने के लिए बड़े प्रतिष्ठानों, होटल, स्टोर्स, मॉल, रेस्टारेंट तथा फल गोदामों एवं थोक विक्रेताओं के यहां जांच की कार्यवाही निरन्तर जारी रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए। श्री यादव ने कहा कि अमानक खाद - बीज का विङ्मीय करने वालों के विरुद्ध एफआईआर भी दर्ज कराई जाए।

हितग्राहियों को मिले फायदा

बैठक में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के संभावित हितग्राहियों तथा सम्बल योजना के हितग्राहियों के सत्यापन के काम में तेजी लाने के निर्देश स्थानीय निकायों के अधिकारियों को दिए गए । कलेक्टर ने सम्बल योजना के हितग्राहियों का सत्यापन 15 जुलाई तक हर हालत में पूरा कर लेने की हिदायत दी। श्री यादव ने सीएम हेल्पलाइन से तथा जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा भी की।

स्कूल संचालकों को बुलाएं

कलेक्टर ने बैठक में बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर निजी स्कूलों के संचालकों की शीघ्र बैठक बुलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस बैठक में आरटीओ एवं ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों और स्कूल बस संचालकों को भी बुलाया जाए।