रशियन हैकर्स ने खरीदा आनलाइन डाटा बैंकों से निकाले लाखों रुपए, दो गिरफ्तार

रशियन हैकर्स ने खरीदा आनलाइन डाटा बैंकों से निकाले लाखों रुपए, दो गिरफ्तार

 
पुलिस के तमाम प्रयासों के बाद भी आनलाइन धोखाधड़ी की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। रशियन के दो हैकर्स ने आनलाइन डाटा खरीदने के बाद क्रेडिट कार्ड का नंबर जुटाकर रशियन के दो हैकर्स लिए।
सायबर सेल के पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह को फरियादी अनूप पिता शिव तिवारी निवासी श्रीजी वैली बिचौली मर्दाना ने बताया कि 9 दिसंबर 2019 को सुबह सवा छह बजे मेरे क्रेडिट कार्ड से किसी ने 21188.60 रुपए निकाल लिए। मामले की जांच के बाद पुलिस ने चिराग और उसके साथी मुकुल पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज गिरफ्तार कर लिया है। आरोपीगण को फरियादी के कार्ड का डेटा अंडरग्राउंड आनलाइन साइट्स से मिला। आरोपीगण क्रेडिट या डेबिट कार्ड का डेटा बिटकॉइन का प्रयोग कर खरीदते हैं। आरोपियों द्वारा उक्त डाटा का प्रयोग अनआॅथोराइज्ड ट्रांजेक्शन किया गया, जहां यदि पीड़ित समय पर बैंक में शिकायत करें तो बैंक पीड़ित को पूरा पैसा रिफंड करना होता है। आरोपी चिराग ने कम्प्यूटर इंजीनियरिंग से पॉलिटेक्निक डिप्लोमा किया है। मुकुल ने इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग से पॉलिटेक्निक डिप्लोमा की पढ़ाई बीच में छोड़ दी। आरोपीगण बचपन से ही नई तकनीकों को सीखने के लिए लालायित रहते हैं। आरोपियों से घटना में प्रयुक्त दो लैपटॉप, दो आईफोन व खरीदे गए क्रेडिट-डेबिट कार्ड का डाटा जब्त किया है।