लूट के पुराने बदमाशों पर शिकंजा कस पूछताछ कर रही पुलिस

लूट के पुराने बदमाशों पर शिकंजा कस पूछताछ कर रही पुलिस

इंदौर। द्वारकापुरी में हुई लूट के बाद पुलिस पुरानी लूट के बदमाशों पर पिल पड़ी। सभी थाना क्षेत्रों में लूट की वारदात को अंजाम दे चुके बदमाशों को पुलिस ने पूछताछ के लिए उठाया और जो नहीं मिला, उसकी तलाश में रातभर छापे मारे। बावजूद इसके अब तक पुलिस को लूट के आरोपियों को पकड़ने के लिए कोई अहम् सुराग हाथ नहीं लगा है। पुलिस अब लूट के तरीके और हुलिए के आधार पर बदमाशों को पहचान करने में लगी है। देर रात तक पुलिस ने थाने में बैंककर्मियों के भी बयान लिए और क्रॉस वेरिफिकेशन किया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देश मिलने के बाद थाना प्रभारियों ने देर रात तक अपने-अपने थाना क्षेत्रों के उन बदमाशों के घरों पर छापे मारे, जो इस तरह की घटना को अंजाम दे चुके हैं। इसके साथ ही आदतन अपराध करने वाले और नशे के लिए अपराध करने वाले बदमाशों को भी उठाया गया। कई बदमाश तो घर पर ही पुलिस को मिल गए तो कई बाहर थे। ऐसे में जो नहीं मिले, उन्हें पुलिस ने थाने पर बुलाया है, वहीं हुलिए के आधार पर पुलिस ने अपना मुखबिर तंत्र भी सक्रिय कर दिया है। हालांकि, रातभर की छापेमारी के बाद भी पुलिस के हाथ अब तक कुछ नहीं आया है। लूट के लिए हुई थी हत्याद्वारका पुरी थाना क्षेत्र में चार माह पहले लूट के लिए बदमाशों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया था। आरोपी राहुल ठाकुर ने लूट की नीयत से एलआईसी अधिकारी यतिन पीसे की चाकू मारकर हत्या कर दी थी। राहुल ने इसके साथ ही राह चलते अन्य तीन-चार लोगों को भी चाकू मारकर घायल कर दिया था। बमुश्किल राहुल पुलिस की गिरμत में आया था। द्वारकापुरी थाना क्षेत्र में लगातार अपराध बढ़ रहे हैं। इसके पीछे पुलिस की नियमित गश्त न होना भी एक कारण है। पिछले दिनों भी क्राइम ब्रांच ने यहां से मैच का सट्टा पकड़ा था।