पीपुल्स डेंटल अकादमी फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी फैलोशिप प्रोग्राम

पीपुल्स डेंटल अकादमी फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी फैलोशिप प्रोग्राम

भोपाल पीपुल्स डेंटल अकादमी के डिपार्टमेंट आॅफ फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी, ओरल पैथोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी के अंतर्गत फैलोशिप इन फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी प्रोग्राम की शुरूआत की गयी। पीपुल्स विश्वविद्यालय द्वारा मान्यता प्राप्त फैलोशिप इन फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी मध्य भारत का पहला प्रोग्राम है। राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के विषय विशेषज्ञ फैलोशिप इन फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी प्रोग्राम के रिसोर्स फैकल्टी रहेंगे। यह एक वर्षीय अग्रिम प्रशिक्षण प्रोग्राम है। इस प्रोग्राम द्वारा डेंटल प्रोफेशनल्स सिविल व क्रिमिनल केसेस की मेडिको लीगल इंवेस्टीगेशंस के बारे में योग्यता हासिल कर सकते हैं। डॉ. अशोक शर्मा डायरेक्टर मेडिको लीगल इंस्टिट्यूट गवर्नमेंट आॅफ एमपी-सीजी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे। सभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने अपने अनुभव साझा किए। फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी में आॅस्ट्रेलिया से ट्रेनिंग प्राप्त धारवाड़ कर्नाटक से डॉ. अशिथ बी आचार्य और भूतपूर्व निदेशक मेडिको-लीगल इंस्टिट्यूट एमपी-सीजी एवं तत्कालीन डायरेक्टर मेडिकल एलएनएमसी और जेके हॉस्पिटल में कार्यरत डॉ. डीके सत्पथी गेस्ट फैकल्टी रहे। डॉ. अशिथ आचार्य ने छात्रों को फॉरेंसिक के मौलिक सिद्वांतो व उनकी उपयोगिता से अवगत कराया। डॉ. सतपथी ने अपने कार्यकाल में आई विभिन्न परिस्थितियों का वर्णन किया और कानून व्यवस्था में फॉरेंसिक के महत्व से परिचित करवाया। सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया। डॉ. राजेश कपूर वाइस चांसलर पीपुल्स यूनिवर्सिटी ने पीपुल्स डेंटल अकादमी की इस पहल की सराहना की एवं पीपुल्स विश्वविद्यालय की बड़ी उपलब्धि होना बताया। डॉ. चंद्रेश शुक्ला प्रेसिडेंट एमपी स्टेट डेंटल काउंसिल एवं मेंबर डेंटल काउंसिल आॅफ इंडिया ने भी पीपुल्स डेंटल अकादमी की सराहना की और स्वयं इस प्रोग्राम के अगले सत्र में प्रवेश लेने की बात कही। डॉ. शुभांगी म्हस्के निदेशक फैलोशिप इन फॉरेंसिक ओडोन्टोलॉजी एवं विभागाध्यक्ष डिपार्टमेंट आॅफ ओरल पैथोलॉजी ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा। डॉ. सुमित नारंग डीन पीपुल्स डेंटल अकादमी के मार्गदर्शन में डॉ. आदर्श राजपूत , डॉ. अर्शी खान, शिक्षा नाहर, संकेत आरस, सयैद जोहैब हसन एवं शुभदा एस कुमार द्वारा कार्यक्रम का सफल आयोजन किया गया।