‘ऊबर केयर’ के माध्यम से 90,000 से ज्यादा चालकों को मिला लाभ

‘ऊबर केयर’ के माध्यम से 90,000 से ज्यादा चालकों को मिला लाभ

नई दिल्ली । मांग पर राइड शेयरिंग अग्रणी कंपनी ऊबर ने गुरुवार को कहा कि उसने ड्राइवर वेलफेयर प्रोग्राम ‘ऊबर केयर’ के जरिए पहले साल में 90,000 से ज्यादा चालकों को लाभ पहुंचाया है। वर्ष 2018 में लॉन्च किया गया ‘ऊबर केयर’ हजारों चालकों को जीवन बीमा, परिवार का स्वास्य बीमा एवं माइक्रो लोन आदि सुविधाएं आसानी से उपलब्ध कराता है। दिल्ली, बेंगलुरु, मुंबई, हैदराबाद और पुणे में इस कार्यक्रम के तहत सर्वाधिक संख्या में चालकों को लाभ पहुंचा है। ऊबर एशिया के हेड आॅफ सेंट्रल आॅपरेशंस एसए पवन वैश ने ऊबर केयर की पहली सालगिरह के मौके पर कहा,‘‘ ऊबर में हमारा मानना है कि हमारी जिम्मेदारी केवल चालक को यह प्लेटफॉर्म देकर उनके लिए अवसरों का निर्माण करके पूरी नहीं होती, बल्कि हमने लाखो चालक समुदाय का भी निर्माण किया है और हम उनके साथ संलग्न होकर उनके जीवन में सुधार लाते रहेंगे। ऊबर केयर से हमने हजारों चालकों को जीवन एवं स्वास्य बीमा, वित्तीय सहयोग, बच्चों की शिक्षा एवं मेडिकल परामर्श उपलब्ध कराया है। भविष्य में हम ऊबर केयर को और ज्यादा मजबूत करेंगे, ताकि ड्राइवर के जीवन में सुधार लाया जा सके। श्री वैश ने कहा कि आज तक विभिन्न शहरों के हजारों चालकों को 35.6 करोड़ रु. के माइक्रो लोन दिए जा चुके हैं। ऊबर ने चालकों को आईओसीएल के सभी पेट्रोल पंप पर पेट्रोल, डीज़ल एवं सीएनजी में छूट देने के लिए इंडियन आॅयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड एवं पेटीएम के साथ साझेदारी की है। पिछले साल हजारों चालकों को 38.7 करोड़ रु. के μयूल क्रेडिट दिए जा चुके हैं। इसके अलावा चालकों एवं उनके परिजनों के लिए स्वास्य आदि अनेक कल्याणकारी योजनायें संचालित की जा रही हैं।