न्यूजीलैंड: ट्रेन में हिंदी बोलने पर लड़की ने दीं गालियां,तो महिला कंडक्टर ने लड़की को उतारा, सभी ने की तारीफ

न्यूजीलैंड: ट्रेन में हिंदी बोलने पर लड़की ने दीं गालियां,तो महिला कंडक्टर ने लड़की को उतारा, सभी ने की तारीफ

वेलिंगटन। ट्रेन में सहयात्री के हिंदी में बात करने पर एक लड़की इस कदर नाराज हो गई कि उसने सहयात्री को गालियां देना शुरू कर दिया। जब इस बात की खबर ट्रेन की कंडक्टर को लगी तो उसने उक्त लड़की को ट्रेन से उतार दिया। अब लोग महिला कंडक्टर की तारीफ कर रहे हैं। यह घटना न्यूजीलैंड की है। न्यूजीलैंड के शहर वेलिंगटन से अपर हट इलाके के लिए मेटलिंक ट्रेन चलती है। इसी ट्रेन में एक भारतीय मूल का व्यक्ति अपनी पत्नी से फोन पर हिंदी में बात कर रहा था। बस इसी बात पर व्यक्ति के बराबर में बैठी किशोर युवती इस कदर नाराज हो गई कि वह भारतीय मूल के व्यक्ति पर चीख पड़ी और हिंदी में बात करने पर नाराजगी जतायी।

लड़की बोली, चले जाओ अपने देश वापस

लड़की ने भारतीय मूल के व्यक्ति से कहा, अपने देश वापस चले जाओ, यहां अपनी भाषा में बात मत करो। इस घटना की जानकारी किसी यात्री ने ट्रेन की कंडक्टर जेजे फिलिप को दे दी। फिलिप मौके पर पहुंची। जब कई बार चेतावनी देने के बाद भी लड़की ने गुस्सा करना बंद नहीं किया। इस पर जेजे ने लड़की को तुरंत ट्रेन से उतरने को कहा। जब आरोपी लड़की इसके लिए राजी नहीं हुई तो महिला कंडक्टर ने पुलिस को बुलाने की धमकी दी। इसके बाद लड़की ट्रेन से उतर गई।

महिला कंडक्टर को मिलेगा सिविक सेफ्टी अवॉर्ड

इस घटना के लिए महिला कंडक्टर की सोशल मीडिया पर लोग तारीफ कर रहे हैं। वेलिंग्टन के मेयर जस्टिन लेस्टर ने भी महिला कंडक्टर की तारीफ की है। इतना ही नहीं कंडक्टर को शहर का सिविक सेफ्टी अवॉर्ड देने की भी घोषणा की गई है। महिला कंडक्टर जेजे फिलिप का कहना है कि हम न्यूजीलैंड में इस तरह के व्यवहार को अनुमति नहीं दे सकते।