मानसून फिर सक्रिय, 2 इंच बारिश से कई इलाकों में घुसा पानी

मानसून फिर सक्रिय, 2 इंच बारिश से कई इलाकों में घुसा पानी

जबलपुर। मानसून एक बार फिर सक्रिय हो गया है। शनिवार की शाम से शुरू हुई बारिश अभी जारी है। 2 इंच बारिश में शहर तरबतर हो गया है। निचली बस्तियों में पानी भर गया है। सड़कों पर भरा पानी नालियों से ओवरफ्लो गंदगी के साथ वाहन चालकों के लिए हमेशा की तरह परेशानी बना है। खटीक मोहल्ला में 2 मकान ढह गए हैं। वहीं बरगी बांध लबालब हो गया है जिससे मौसम में पहली बार 21 गेट खोले गए हैं। नर्मदा का जलस्तर सभी घाटों में 3 मीटर तक बढ़ गया है और प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। घाटों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पिछले दो दिनों से एमपी के अधिकांश जिलों में भारी बारिश से बाढ़ के हालात एक बार फिर उत्पन्न हो गए हैं। बरगी बांध के जल भराव वाले जिलों मंडला, डिंडौरी, सिवनी, जबलपुर में पिछले 24 घंटों से हो रही बारिश का असर बरगी बांध पर पड़ा है। रविवार की सुबह बरगी बांध अपने अधिकतम भराव सीमा 422.76 मीटर से कहीं ज्यादा 422.90 मीटर के पार जा पहुंचा, जिसके बाद पानी को नियंत्रित करने के लिए बांध के सभी 21 गेट खोल दिए गए हैं। जिससे नर्मदा नदी के निचले इलाकों में जबर्दस्त बाढ़ के हालात उत्पन्न हो गए हैं। प्रशासन ने जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, होशंगाबाद जिलों में एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं। डेम से एक बार में 7498 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। पानी छोड़े जाने के पहले प्रशासन ने नर्मदा नदी के डाउनस्ट्रीम वाले जिलों में बाढ़ का अलर्ट जारी किया है। लोगों से नर्मदा तटों से दूर रहने की अपील की गई है।

ये है खुलने वाले गेटों की ऊंचाई

लंबे समय बाद बरगी बांध के सभी 21 गेटों को खोला गया है। जिसमें 11 गेटों को 3-3 मीटर, 4 गेटों को ढाई मीटर, 4 गेटों को 2 मीटर व 2 गेटों को आधा- आधा मीटर तक खोला गया है। बरगी बांध प्रबंधन के मुताबिक इन गेटों के माध्यम से 7498 क्यूमिक पानी छोड़ा जा रहा है।

4 डिग्री तक गिरा तापमान

रविवार को मौसम के मिजाज में भारी तब्दीली नोट की गई। पारा 4 डिग्री तक गिर गया। अधिकतम तापमान 27.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से 4 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान23.6 डिग्री रहा जो कि सामान्य से 1 डिग्री कम रहा। आर्द्रता 100 प्रतिशत रही। बीते 24 घंटों में 47.2 डिग्री बारिश रिकार्ड की गई है। इस सीजन में बारिश का कुल आंकड़ा1381.4 मिमी यानि 54 इंच पार हो गया है। मौसम की औसत बारिश का आंकड़ा पार हो चुका है जो कि 53 इंच है। वहीं मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि आगामी चौबीस घंटों में संभाग के जिलों में भारी बारिश हो सकती है। उड़ीसा व उससे लगे छत्तीसगढ़ के क्षेत्रों में कम दबाव से यह बारिश हो रही है।

खटीक मोहल्ला में 3 मकान गिरे

खटीक मोहल्ला में सुबह 7 बजे 2 मकान गिरे। ये मकान आपस में जुड़े थे। एक में छाया नरगिस तथा दूसरे में सूरज ठाकुर रहते थे। दोनों की गृहस्थी तबाह हो गई है। मौके पर नगर निगम के कर्मचारियों ने पहुंच कर मलबा हटाने की कोशिश की। वहीं दोपहर में करीब 2 बजे मदार टेकरी महिला अस्पताल के पास एक मकान गिरने की सूचना फायर ब्रिगेड कंट्रोल रूम पहुंची है। कंट्रोल रूम प्रवक्ता ने बताया कि बिलहरी में एक गाय के पागल होने की सूचना पर उसे पकड़कर दयोदय पहुंचाया गया है।