मांसपेशियों की जकड़न दूर करती है मैन्युअल थैरेपी

मांसपेशियों की जकड़न दूर करती है मैन्युअल थैरेपी

मैन्युअल थैरेपी की नई टेक्नोलॉजी पर पीपुल्स कॉलेज आॅफ पैरामेडिकल साइंसेस में एक दिवसीय वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप में एसडीपीटी क्लीनिक इंदौर से आए मैन्युअल विशेषज्ञ महेश साहू ने मैन्युअल थैरेपी में प्रायोगिक तकनीक पर प्रशिक्षण दिया। इस वर्कशॉप में संस्था के 67 स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया। इस वर्कशॉप का मूल उद्देश्य स्टूडेंट्स को तकनीकी बारीकियों का प्रशिक्षण देना था। इस वर्कशॉप में विशेषज्ञ महेश साहू ने व्याख्यान में मनुष्य के शरीर की 12 फिशियल लाइनों के बारे में विस्तार से बताया, और स्टूडेंट्स को उनसे जुड़े रोगों व उनके उपचार की जानकारी दी। उन्होंने स्टूडेंट्स को बताया कि मैन्युअल थैरेपी, शरीर की मांसपेशियों की जकड़न कम करने और जोड़ों की गतिशीलता बढ़ाने के लिए बहुत ही उन्नत तकनीक है। उन्होंने बताया कि यह बिना किसी दुष्प्रभाव के शरीर के लिए लाभदायक है। उल्लेखनीय है कि संस्था में इस तरह की वर्कशॉप का आयोजन किया जाता है, जिससे कॉलेज के स्टूडेंट्स की शैक्षणिक गुणवत्ता और व्यवसायिक कुशलता लगातार बढ़ रही है।