कश्मीर में सेना को बड़ी सफलता: 12 लाख का मोस्ट वांटेड आतंकी मूसा ढेर

कश्मीर में सेना को बड़ी सफलता: 12 लाख का मोस्ट वांटेड आतंकी मूसा ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में त्राल में सुरक्षा बलों द्वारा मोस्ट वांटेड आतंकी जाकिर मूसा को ढेर कर दिया है। जाकिर मूसा कुख्यात आतंकी संगठन अंसार गजवात उल हिंद का चीफ है। मूसा की सुरक्षा एजेंसियों को लंबे समय से तलाश थी। आर्मी की 42 राष्ट्रीय राइफल्स, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप और सीआरपीएफ की एक टुकड़ी ने ददसारा गांव में एक ऑपरेशन में दो आतंकियों को ढेर किया है। इन दोनों आतंकियों में से आतंकी जाकिर मूसा है। खुफिया सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने इन दोनों आतंकियों को घेर लिया था। सुरक्षा बलों से जब इनसे सरेंडर करने को कहा तो ये आतंकी ग्रेनेड से हमला करने लगे।

सुरक्षा के चलते इंटरनेट सेवाएं की गई बंद

सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि जाकिर मूसा के साथ कुछ दूसरे आतंकी भी छिपे हो सकते हैं, जिसके चलते इस इलाके में सुरक्षा बलों ने देर रात तक सर्च ऑपरेशन किया। इसके साथ ही पुलवामा में इंटरनेट सेवाएं ठप कर दी गई हैं।

घाटी में आज बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

मूसा के मारे जाने की खबर आने के बाद जम्मू कश्मीर प्रशासन ने कश्मीर डिवीजन में शुक्रवार को सभी स्कूल और कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया है। विदित है कि साल 2013 चंडीगढ़ के एक इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने वाले मूसा ने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी, उसके बाद आतंकी बन गया।

जहां हुआ था बुरहानी वानी ढेर, उसी इलाके में मारा गया

आतंकी जाकिर मूसा जम्मू- कश्मीर में बुरहान वानी के बाद आतंक का नया पोस्टर ब्वॉय बन गया था। संयोग है कि जाकिर मूसा को पुलवामा के लगभग उसी इलाके में मार गिराया गया है, जहां 2016 में आर्मी ने हिज्बुल के कमांडर आतंकी बुरहान वानी को ढेर किया था।

हिज्बुल का कमांडर था जाकिर मूसा

मूसा 2017 से पहले हिज्बुल मुजाहिदीन के साथ ही जुड़ा था। लेकिन कुछ दिनों बाद उसने इस आतंकी संगठन से रिश्ता तोड़ अपना संगठन बना लिया और इसका नाम रखा अंसार गजवात उल हिंद। मूसा खुद को ओसामा बिन लादेन का गुर्गा बताने लगा। 2017 में उसका एक वीडियो सामने आया था। इस वीडियो में वह अपने साथियों के साथ हथियार लिए हुए दिख रहा था।

राजौरी में आतंकियों का कैंप ध्वस्त, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद

राजौरी के चटियारी जंगल में पुलिस ने आतंकियों के ठिकाने को नष्ट कर दिया। आतंकियों के पास से 3 एके 47, एक एके 56 रायफल, 11 पिस्टल और गोला-बारुद बरामद हुआ है। आतंकियों के ठिकाने से बडी मात्रा में असलाह बरामद होना इस बात के संकेत हैं कि आतंकी किसी बड़ी तैयारी में व्यस्त थे।

पुंछ में ट्रेनिंग के दौरान धमाका, 8 जवान घायल

वहीं पुंछ में ट्रेनिंग के दौरान हुए धमाके में 8 जवान घायल हो गए। इनमें से एक को ज्यादा चोट आई है वहीं 7 अन्य को मामूली चोटें आईं हैं। इससे पहले खबर थी कि एलओसी से सटे पुंछ सेक्टर से लगते मेंढर इलाके में आईडी ब्लास्ट हुआ है जिसमें जवान शहीद हुआ और 7 अन्य घायल हुए हैं।