कर्नाटक और केरल ने जीती नेशनल चैम्पियनशिप

कर्नाटक और केरल ने जीती नेशनल चैम्पियनशिप

इंदौर। कर्नाटक और केरल की टीमों ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए मध्यप्रदेश आट्या- पाट्या एसोसिएशन द्वारा आयोजित राष्ट्रीय सब-जूनिययर आट्या- पाट्या चैंपियनशिप में क्रमश: बालक व बालिका वर्ग का खिताब अपने नाम किया। खालसा स्टेडियम के इनडोर हॉल में खेली गई इस स्पर्धा के बालक वर्ग के फाइनल में कर्नाटक ने अपनी ख्याती के अनुरूप खेलते हुए केरल को 2-0 से पराजित किया। वहीं बालिका वर्ग के फाइनल में केरल ने सशक्त महाराष्ट्र को 2-0 से हराकर बड़ा उलटफेर किया और खिताब पर कब्जा किया। बालक वर्ग में तीसरा स्थान महाराष्ट्र और पांडिचेरी को तथा बालिका वर्ग में पांडिचेरी व कर्नाटक को मिली। पुरस्कार वितरण स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट, विधायक संजय शुक्ला, शिक्षाविद् अनिल अभ्यंकर, अध्यक्ष भारतीय आट्या-पाट्या संघ वीडी पाटील तथा महासचिव डॉ. डीपी कविश्वर के आतिथ्य में हुआ। स्वागत राजेश गौड़, संजय अठवाल, अनिल श्रीवास्तव, राजेंद्र श्रीवास, संजय पाटनकर, आशीष गुप्ते, हरविंदर सिंह रूप्पल, कपिल पानसे, महेश गौड़, श्रीकांत अठवाल, जीगर हरसोला, रामकिशोर शर्मा, समीर चौरसिया, अतूल कुशवाह, मयूरी वर्मा ने किया। संचालन मनीष चौधरी ने किया तथा आभार जगदीशचंद्र वर्मा ने माना। स्पर्धा में सबसे अनुशासित टीम का पुरस्कार मणिपुर को दिया गया। टीम को 5 हजार रुपए की नगद राशि दी गई। वहीं बालक वर्ग में श्रेष्ठ खिलाड़ी प्रज्जवल मालगी कर्नाटक, श्रेष्ठ असिलांट प्रवणव बधे महाराष्ट्र तथा बेस्ट डिफेंडर विष्णुधथान केरल रहे। बालिका वर्ग में श्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार धिया केरल, श्रेष्ठ असिलांट साक्षी येडके महाराष्ट्र तथा बेस्ट डिफेंडर भारती पांडिचेरी रही। टीमों का आकर्षक ट्रॉफी के साथ कई अन्य पुरस्कार भी दिए गए।