हर दिन औसतन 650 सैलानी पहुंचे कान्हा, 9 माह में पौने दो लाख पर रहा आंकड़ा

हर दिन औसतन 650 सैलानी पहुंचे कान्हा, 9 माह में पौने दो लाख पर रहा आंकड़ा

जबलपुर  । कान्हा नेशनल पार्क में हर रोज औसतन 650 सैलानी पहुंचे हैं। इस तरह नौ माह में यह आंकड़ा पौने दो लाख के करीब दर्ज किया गया है। सैलानियों की यह संख्या पिछले सालों की तुलना में ज्यादा बताई जा रही है। कान्हा नेशनल पार्क में देशी व विदेशी सैलानियों की आमद नौ माह तक लगातार चलती रहती है। छुट्टियों के मौके पर यह संख्या बढ़ जाती है। इस बार पार्क में कुल 1 लाख 74 हजार 585 सैलानियों का आंकड़ा दर्ज किया गया है। इनमें देशी पर्यटक 1 लाख 91 हजार 762 तथा विदेशियों की संख्या 22 हजार 243 रही है।

व्यवस्थाओं में भी हुआ बदलाव

1 अक्टूबर से लेकर 30 जून तक पर्यटकों के सैर सपाटे के व्यवस्थाओं में भी बदलाव किए गए। पहले 140 वाहन सैलानियों के लिए लगे थे, जिनकी संख्या बढ़ाकर 178 कर दी गई। जिप्सी की संख्या बढ़ने से ज्यादा से ज्यादा सैलानियों को पार्क में घूमने का मौका मिला है।

बीते वर्ष से 15 हजार बढ़े

वर्ष 2017-18 में कुल 1 लाख 59 हजार 126 के लगभग सैलानी पहुंचे थे, इस बार यह आंकड़ा 15 हजार 399 ज्यादा रहा। देशी पर्यटको में 12 हजार 167 तथा विदेशियों में 2 हजार 712 की वृद्धि दर्ज की गई है। ऐसा कहा जा रहा है कि यह संख्या लगातार बढ़ रही है। जिसमें देशी 1 लाख 39 हजार 595 तथा विदेशी सैलानी 19 हजार 531 रहे हैं। इसी तरह 2016-17 में भी आंकड़ा बढ़ा था, उस समय गत वर्ष की तुलना में 16 हजार 758 सैलानियों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई थी।

आय में भी हुआ इजाफा

पार्क में सैलानियों की अच्छी संख्या के चलते पार्क की आय में वृद्धि हुई है, हालांकि 2018-19 के नौ माह का आंकड़ा प्रबंधन द्वारा दर्ज नहीं किया गया है। वर्ष 2016-17 में जहां आय 6 करोड़ 22 लाख 13 हजार 737 रुपए थी, वह बढ़कर 2017-18 में 7 करोड़ 35 लाख 53 हजार 828 रुपए दर्ज की गई थी।

शुरु हो गई मानसून गश्ती

पार्क के बंद रहने के दौरान वन विभाग मानसून गश्ती नियमित तौर पर चलाता है। इस दौरान बीट गाडर्स से लेकर रेंज आफीसर्स पार्क के चप्पे-चप्पे का दौरा करते हैं। गश्ती के दौरान पार्क में कितनो घूमा? क्या नजर आया? क्या खास था? जैसे ब्यौरे पर वरिष्ठ अधिकारी पूरा मंथन करते हैं और पार्क को संरक्षित करने के लिए भी सतर्क रहते हैं।