हुआ तो हुआ' सिर्फ तीन शब्द नहीं, ये कांग्रेस का अंहकार बोल रहा है : मोदी

हुआ तो हुआ' सिर्फ तीन शब्द नहीं, ये कांग्रेस का अंहकार बोल रहा है : मोदी

सासाराम। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि गरीबों की अनदेखी, वंशवाद को बढ़ावा, भ्रष्टाचार को संरक्षण, पाकिस्तान के आतंक का मुंहतोड़ जवाब देने में नाकामा, सेना से सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगने और सिख दंगे पर ‘हुआ तो हुआ’ कहने वाले अहंकारी ‘महामिलावटियों’ को देश की जनता कह रही है ‘अब बहुत हुआ’ । श्री मोदी ने सासाराम से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार छेदी पासवान के पक्ष में यहां चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा, ‘ये महामिलावटी लोग सिर्फ और सिर्फ समाज के विभाजन के बल पर वोट बटोरने की राजनीति करते हैं। यही कारण है कि आजादी के बाद इतने दशकों तक बिहार समेत इस समूचे पूर्वी भारत को विकास की रोशनी से दूर रखा गया । जब हमारे सपूत सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करते हैं, तो ये आतंकियों की लाशें मांगते हैं । इसलिए गुस्से से भरा हुआ देश कह रहा है, अब बहुत हुआ । ये देश तोड़ने की बात करने वालों के साथ खड़े रहते हैं इसलिए देश कह रहा है, अब बहुत हुआ। दशकों तक इन्होंने आतंकवाद के सामने घुटने टेके रखे इसलिए देश कह रहा है अब बहुत हुआ । पाकिस्तान के आतंक को ये मुंहतोड़ जवाब नहीं दे पाए इसलिए देश उनको कान पकड़ के कह रहा है, अब बहुत हुआ ।’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘देश इन महामिलावटियों पर इतना गुस्सा क्यों है । इसका जवाब है वंशवादियों और भ्रष्टाचारियों का अहंकार। कांग्रेस का यही अहंकार इमरजेंसी के दौरान दिखा था। जय प्रकाश नारायण जैसे महान व्यक्ति पर डंडे बरसाए थे। बाबू जगजीवन राम को इतना अपमानित किया कि उन्हें कांग्रेस छोड़ने को मजबूर होना पड़ा।’ उन्होंने कहा कि अपने अहंकार को महामिलावट के लोगों ने तीन शब्द में प्रकट किया। वे तीन शब्द हैं ‘हुआ तो हुआ’। ये जो नामदार हैं कांग्रेस के उनके गुरु ने टीवी के सामने कहा ‘हुआ तो हुआ’, कौन परवाह करता है। मोदी ने कहा कि ये कांग्रेस का अहंकार ही था जिसने बाबा साहब आंबेडकर का नाम तक, देश से इतिहास से मिटाने की कोशिश की थी । बाबा साहब की विरासत संभालने का दावा करने वाले आज खुले आम कांग्रेस का झंडा लेकर घूम रहे है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस का अहंकार सातवें आसमान पर चढ़ा हुआ है । प्रधानमंत्री ने कहा कि लोकनायक की विरासत संभालने का दावा करने वाले लोग बिहार में उसी कांग्रेस के साथ हाथ मिलाकर जनता के पास वोट की भीख मांग रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘दुर्भाग्य देखिए इसी बिहार का कुछ लोगों ने अपने भ्रष्टाचार और स्वार्थ के लिए जमकर फायदा उठाया । आज वे सुबह-शाम उन्हें गालियां दे रहे हैं । ये गालियां इसलिए निकल रही हैं क्योंकि बिहार की जनता ने इनका सुपड़ा साफ कर दिया। महामिलावट के दम पर ये लोग दिल्ली में जो मजबूर सरकार बनाने के सपने देख रहे थे उसे लोगों ने चूर-चूर कर दिया। ’ प्रधानमंत्री ने कहा कि आज जो महामिलावटी लोग गरीबों के लिए आंसू बहा रहे हैं उन्होंने गरीबों के लिए कुछ भी नहीं किया । ये वे लोग हैं जो दशकों तक गरीबों के नाम पर वोट और बड़े बड़े पद हासिल किए लेकिन जब काम करने की बारी आई तो सबसे पहले वे गरीबों को ही भूल गये । ये लोग भी गरीबी से ही निकले थे लेकिन इन लोगों ने आज हजारों करोड़ की संपत्ति बना ली है । राजनीति में कब से इतनी तनख्वाह मिलने लगी कि आप अरबों खरबों के मालिक हो जाएं । इन लोगों ने जनता के पैसे लूट कर अपने लिए बड़े-बड़े बंगले बनाए और लाखो रुपये की गाड़यिां खरीदी