भारत ने जताया विरोध, कहा- द्विपक्षीय मुद्दा है कश्मीर, न हो तीसरे की भूमिका

भारत ने जताया विरोध, कहा- द्विपक्षीय मुद्दा है कश्मीर, न हो तीसरे की भूमिका

वाशिंगटन। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोमवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से व्हाइट हाउस में मुलाकात की। मुलाकात के दौरान इमरान ने कश्मीर का मुद्दा उठाया था, जिस पर ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता की पेशकश की है। ट्रंप ने कहा कि अगर मैं इस विवाद को सुलझाने में मदद कर सकता हूं तो मैं मदद करना चाहूंगा। ट्रंप ने न्यौता मिलने पर पाकिस्तान जाने की भी बात कही। वहीं ट्रंप के बयान पर भारत ने कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दा एक द्विपक्षीय मुद्दा है और इसमें तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है। विदित है कि भारत की हमेशा से कश्मीर मुद्दे को लेकर यह पॉलिसी रही है कि यह मुद्दा दो देशों भारत और पाकिस्तान के बीच का है, इसलिए इसको दोनों देश ही सुलझाएंगे। इसलिए ट्रंप का यह बयान कोई मायने नहीं रखता है। वहीं ट्रंप के साथ मुलाकात के बाद पाक पीएम इमरान खान अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ से भी मंगलवार को 23 जुलाई को मुलाकात करेंगे।