भोलेनाथ के दर्शनों के लिए शिवालयों में उमड़े भक्त्

भोलेनाथ के दर्शनों के लिए शिवालयों में उमड़े भक्त्

ग्वालियर  सावन के पहले सोमवार को हर तरफ शिव भक्तों की भीड़ नजर आई। शहर के हर शिव मंदिर पर श्रद्धालुओं का मेला लगा हुआ था। अचलेश्वर महादेव मंदिर और कोटेश्वर महादेव मंदिर के पट कल रात 12 बजे खुलते ही श्रद्धालु महादेव के दर्शन करने पहुंच गए। मंदिरों पर भगवान भोलेनाथ के दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं को दो से तीन घंटे लाइन में लगना पड़ा। अचलेश्वर महादेव मंदिर, गुप्तेश्वर मंदिर, कोटेश्वर, माकंर्डेश्वर, चकलेश्वर और मंगलेश्वर महादेव मंदिर पर श्रद्धालुओं की भीड़ सुबह से देर रात्रि तक लगी रही। साथ ही पुलिस प्रशासन की ओर सभी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। सभी कतार में लगकर व्यवस्थित तरीके से दर्शन करक रहे थे और बीच-बीच में भोले बाबा के जयकारे लगा रहे थे।

बाबा महाकाल की शोभायात्रा निकाली

पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्रावण मास के प्रथम सोमवार को ऊँ नम: शिवाय महामंत्री लेखन बैंक, मुरार द्वारा शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें पालकी में सवार होकर बाबा महाकाल विराजमान थे। शोभायात्रा के आगे 101 महिलाओं सिर पर कलश रखकर चल रही थीं व उसके पीछे एक बग्गी में पं. मुकेश मोहन पांडे शास्त्री शिव पुराम लेकर चल रहे थे, जिसका वाचन लामलीला मैदान में किया जाएगा। शोभायात्रा श्री गिर्राज मंदिर, सदर बाजार मुरार से रवाना होकर घासमंडी, सिंहपुर रोड, बारादरी चौराहा होते हुए वापस गिर्राज मंदिर पहुंची।

बुजुर्गों ने की प्राचीन शिव मंदिरों की यात्रा

वरिष्ठ नागरिक सेवा संस्थान द्वारा बुजुर्गों को सावन माह के प्रत्येक सोमवार को नगर के प्राचीन शिव मंदिरों के दर्शन के लिए नि:शुल्क शिवदर्शन यात्रा कराई जा रही है। सीनियर सिटीजन डे-केयर सेंटर पर आयोजित कार्यक्रम में रोटरी अंतर्राष्ट्रीय के डिस्ट्रिक्ट 3053 के गर्वनर हरीश गौड़ ने धर्मध्वजा दिखाकर शिवदर्शन यात्रा के बसों के काफिले को रवाना किया।