‘एंट्री सिस्टम’ सख्त, निवेशक और मंत्री ही पा सकेंगे प्रवेश

‘एंट्री सिस्टम’ सख्त, निवेशक और मंत्री ही पा सकेंगे प्रवेश

इंदौर  । इस माह की 18 तारीख को इंदौर में होने जा रहे मैग्निफिसेंट एमपी में ‘एंट्री सिस्टम’ सख्त होगा। यहां मंत्रियों के साथ आने वाले किसी भी व्यक्ति को प्रवेश नहीं मिलेगा और निवेशक भी व्यक्तिगत तौर पर ही कार्यक्रम में शामिल हो सकेंगे। समूह के रूप में आने वाले किसी को भी एंट्री नहीं मिलेगी। बुधवार को प्रशासनिक मुखिया एसआर मोहंती, प्रमुख सचिव उद्योग डॉ. राजेश राजौरा और पीएस जनसंपर्क संजय शुक्ला इंदौर पहुंचे। यहां मैग्निफिसेंट एमपी के आयोजन तैयारियों की समीक्षा की गई। सीएस ने अफसरों को बार-बार समझाया कि अनावश्यक लोगों को प्रवेश नहीं दिया जाए। जो पास इश्यू किए जाएं वह व्यक्तिगत हों, समूहों के लिए हरगिज नहीं। उन्होंने कहा कि जो वीआईपी हैं उनका स्वागत है लेकिन उनके सहायक आदि प्रवेश नहीं कर सकेंगे। मंत्रियों के सहयोगियों को भी हॉल के बाहर ही रुकना होगा। आठ विशेष सत्र होंगे: बताया गया कि मैग्निफिसेंट एमपी कार्यक्रम के तहत 17 अक्टूबर को प्रदर्शनी का शुभारंभ होगा। मुख्य कार्यक्रम 18 अक्टूबर को होगा। सुबह उद्घाटन सत्र होगा। इसमें मुख्यमंत्री कमलनाथ मौजूद रहेंगे। इसके पश्चात 8 विशेष सत्र होंगे। यह सत्र दो भागों में दोपहर ढाई बजे से साढ़े तीन बजे तक तथा शाम 4 से 5 बजे तक आयोजित किये जायेंगे। शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

अतिथियों के साथ होंगे लाइजिंग आफीसर

अतिथियों के सहयोग के लिये एकएक लाइजिनिंग अधिकारी भी साथ रहेंगे। अतिथियों को इंदौर तथा आसपास और अन्य क्षेत्रों के पर्यटन क्षेत्रों का भ्रमण भी कराया जायेगा। एयरपोर्ट पर हेल्पडेस्क भी रहेगी। एयरपोर्ट से लेकर आयोजन स्थल ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर तक के मार्ग को सजाया-संवारा जायेगा।

कमिश्नर ने दी तैयारियों की जानकारी

संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने बताया कि शहर में आने वाले अतिथियों के लिये जगह-जगह मार्ग संकेतक रहेंगे। एयरपोर्ट तथा अतिथियों के ठहरने के प्रत्येक स्थान पर समुचित स्वागत, सहायता हेतु आवश्यक व्यवस्था की जायेगी तथा योग्य और जानकार अधिकारियों को तैनात किया जायेगा।