कालाधन एवं धनशोधन मामले में खेतान को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस

कालाधन एवं धनशोधन मामले में खेतान को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस

नयी दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में आरोपी गौतम खेतान को नोटिस जारी कर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की उस याचिका पर बुधवार को जवाब मांगा जिसमें काले धन और धनशोधन से संबंधित एक मामले में उसे निचली अदालत से मिली जमानत को चुनौती दी गई है। न्यायमूर्ति चंद्र शेखर ने खेतान को नोटिस जारी किया और ईडी की उस याचिका पर उनका रुख पूछा जिसमें निचली अदालत की ओर से 16 अप्रैल को उन्हें दी गई जमानत को खारिज किये जाने की मांग की गई है। ईडी ने अदालत को बताया कि खेतान अब भी विदेशों में अपना काला धन छुपाये हुए हैं। यह धन विदेशों की विभिन्न शेल कंपनियों के जरिये विदेश भेजा गया है। उच्च न्यायालय ने मामले की सुनवाई की अगली तिथि 18 जुलाई तय की। ईडी ने निचली अदालत के फैसले को इस आधार पर चुनौती दी है कि समाज में खेतान की स्थिति और अपराध की गंभीरता को देखते हुए उनके गवाहों को प्रभावित करने की आशंका है। वकील डी पी सिंह के माध्यम से दायर याचिका में एजेंसी ने दलील दी कि जांच बहुत ही महत्वपूर्ण चरण में है क्योंकि धनशोधन मामले में उनके कथित सहयोगियों की भूमिका की जांच की जा रही है। ईडी ने कहा कि मामले की जांच इस समय महत्वपूर्ण चरण में है। खेतान के खिलाफ आयकर विभाग द्वारा उन पर दर्ज मामले के आधार पर एक मामला दर्ज किया गया। विभाग ने कालाधन (अघोषित विदेशी आय एवं परिसंपत्तियां) एवं कर अधिरोपण कानून, 2015 के प्रावधानों के तहत यह मामला दर्ज किया था।