भाजपा जिला उपाध्यक्ष के यहां धनिया में मिला बुरादा

भाजपा जिला उपाध्यक्ष के यहां धनिया में मिला बुरादा

ग्वालियर ।  नेतानगरी की आड़ में मसालों में मिलवाट का कारोबार करने वाले भाजपा नेता के यहां पर एसडीएम पुष्पा पुषाम ने मंगलवार को कार्रवाई को अंजाम दिया। दोपहर करीब तीन बजे फूड विभाग की टीम भाजपा के जिला उपाध्यक्ष राकेश गुप्ता के मैनावली गली स्थित तानसेन गृह उद्योग पर पहुंची तो उन्हें मौके पर काफी तादाद में धनिया में पिसा हुआ बुरादा मिला और धनिया में पीसने के लिए 12 बोरे लकड़ी के डंटल से भरे हुए मिले। फर्म संचालक टीम को देखते ही कहने लगा कि यह धनिए की लकड़ी है और हमने फेकने के लिए रखा हुआ था तो अधिकारी बोले की फेंकने के लिए या फिर मिलाने के लिए। करीब तीन घंटे तक चली इस कार्रवाई के दौरान एसडीएम के निर्देश पर फूड इंस्पेक्टर रवि शिवहरे, आनंद शर्मा एवं लोकेन्द्र सिंह ने यहां से जांच के लिए पांच सैंपल लिए जिसमें, हल्दी, मिर्च एवं खड़े धनिया एवं पीसे हुए बुरादे का सैंपल लिया। धनियां में बुरादा मिलाने की खबर भी तेजी से शहर में फैली।

पीछे के रास्ते माल ले जाने की गुजारिश

जैसे ही कार्रवाई शुरू हुई तो राकेश गुप्ता खराब माल आने की बात कहते हुए अधिकारियों से कहने लगे कि आप मुझे एक घंटे का समय दे दो में खुद फिकवा दूंगा। जब अधिकारियों ने नहीं मानी तो वह कहने लगा कि माल ले जाना है वह पीछे वाले रास्ते से ले जाओ मुझे सब लोग जानते हैं, लेकिन अधिकारियों ने उनकी नहीं मानी और नगर निगम को फोन करके गाड़ी बुलवाई और बुरादाऔर लकड़ी के डंटल को बाहर भिजवा दिया।

घी, पनीर के सैंपल फेल

फूड विभाग द्वारा लिए गए सैंपल की रिपोर्ट मंगलवार को भोपाल से जारी की गई, चार सैंपल की रिपोर्ट आई जिसमें से तीन सैंपल अमानक निकले। सिंह पुर रोड मुरार स्थित श्रीराम डेयरी से 30 जुलाई को लिया गया घी का सैंपल फेल हो गया इसी तरह बंसल मिष्ठान भंडार बस स्टैंड भितरवार से गाय का दूध एवं पनीर का सैंपल रिपोर्ट में अमानक पाया गया। वहीं भितरवार से से पटेल डेयरी से लिया गया घी का सैंपल जांच में सहीं पाया गया।

मोदी, शाह के साथ टांग रखे थे फोटो

भाजपा में अच्छे पद पर रहने वाले इस फर्म के संचालक गुप्ता ने दूसरों पर रोब झाड़ने के लिए दुकान के भीतर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं अमित शाह के साथ के अपने फोटो लगाकर रखें हुए थे। कार्रवाई के दौरान आसपास के दुकानदार यह चर्चा करते नजर आए कि नेताजी यह काम करते हैं हमें पता ही नहीं था, इनकी सिफारिश के लिए एक भाजपा के दूसरे नेता भी आए थे।