कोरोना वायरस: अतिसंवेदनशील देशों की सूची में भारत 17वें नंबर पर

कोरोना वायरस: अतिसंवेदनशील देशों की सूची में भारत 17वें नंबर पर

बर्लिन/बीजिंग। कोरोना वायरस से करीब 813 से ज्यादा लोगों की मौत सिर्फ चीन में हो चुकी है और इसके संक्रमण के 37,198 से अधिक मामलों की पुष्टि हो चुकी है। उधर, जिन देशों में खतरनाक कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले बाहर से आने की उम्मीद है, उनमें भारत 17वें स्थान है। बर्लिन में हम्बोल्ट विवि और रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस के मामलों को आयात करने के 30 सबसे कमजोर देशों (चीन को छोड़कर) की गणना करने वायु परिवहन पैटर्न का विश्लेषण करने वाला मॉडल विकसित किया है। इसके अनुसार चीन से बाहर थाईलैंड, जापान और द. कोरिया में कोरोना वायरस के संक्रमण के आने की अधिक संभावना है। भारत में दिल्ली एयरपोर्ट पर संक्रमित लोगों की सबसे अधिक संभावना है, फिर मुंबई व कोलकाता हैं।

इधर अस्पताल में नर्स से बेटी बोली- आई मिस यू

चीन में मरीजों का इलाज कर रहे मेडिकल स्टाफ को बेहद मुश्किल परिस्थितियों में काम करना पड़ रहा है। अस्पतालों के कई डॉक्टर, नर्स और लंबे समय से घर नहीं गए हैं। परिवार के लोगों को उन्हें अस्पताल के बाहर ही मिलने, खाना या अन्य जरूरी चीजें देते देखे जा सकता है। ऐसा ही एक मामला हेनान प्रांत के झोकोयू में सामने आया है। यहां एक नर्स से जब उसकी बेटी मिलने पहुंची तो वो अपनी बच्ची को गले नहीं लगा पाई। दूर से ही एयर हग दिया। बेटी भी मां से कहती है कि मैं आपको मिस कर रही हूं। वहीं कहती है, हिम्मत रखो, हम इस वायरस को खत्म कर देंगे।

चीन में संदिग्धों को घर-घर जाकर ढूंढा जा रहा , घसीट कर लाया जा रहा अस्पताल

इधर कोरोना के संदिग्धों की जांच करने उन्हें पकड़ा जा रहा है। घरों से घसीट कर बाहर निकाला जा रहा है। चीन के वुहान में चांगक्विंग गार्डन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कुछ चिकित्साकर्मी कोरोना के एक संदिग्ध को टांगकर ले जा रहे हैं। वहीं कुछ मास्क न पहने हुए लोगों को पुलिसकर्मी पकड़ रहे हैं। उन्हें घसीटकर और टांगकर अस्पताल लाया जा रहा है, क्योंकि ये लोग अस्पताल जाने को तैयार नहीं थे।

मोदी ने जिनपिंग को लिखा पत्र, मदद की पेशकश: चीन में फैले कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को पत्र लिखकर मदद की पेशकश की है। मोदी ने वायरस के प्रकोप को लेकर चीन के लोगों के साथ भारत की एकजुटता व्यक्त की।

चीन में फंसे 171 नागरिकों को वापस नहीं लाएगा बांग्लादेश : बांग्लादेश ने कोरोना वायरस से प्रभावित चीन में फंसे अपने 171 नागरिकों को वापस लाने की योजना रद्द कर दी है। बांग्लादेशी क्रू मेंबर द्वारा चीन जाने से मना करने के बाद उसे यह निर्णय लेना पड़ा।