कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप: मीराबाई, झिल्ली, बिंदिया और रिषिकांता ने जीते गोल्ड

कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप: मीराबाई, झिल्ली, बिंदिया और रिषिकांता ने जीते गोल्ड

आपिया। पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन मीराबाई चानू ने राष्ट्रमंडल वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप के पहले दिन मंगलवार को स्वर्ण पदक जीता। भारत ने मंगलवार को कुल आठ स्वर्ण, तीन रजत और दो कांस्य समेत 13 पदक अपने नाम किए। चानू ने ओलिम्पिक क्वालीफाई इवेंट के महिला 49 किग्रा वर्ग में कुल 191 किग्रा वेट लिफ्ट कर स्वर्ण जीता। यहां से मिले अंक 2020 टोक्यो ओलिम्पिक की अंतिम रैंकिंग में काफी अहम साबित होंगे। मीराबाई ने अप्रैल में चीन के निंगबाओ में एशियाई चैंपियनशिप में 199 किग्रा वजन उठाया था, लेकिन मामूली अंतर से वे पदक से चूक गई थीं। ओलिंपिक 2020 में क्वालीफाई करना 18 महीने के अंदर होने वाले छह टूर्नामेंटों में प्रदर्शन पर निर्भर है। इनमें से 4 सर्वश्रेष्ठ नतीजों के आधार पर क्वालीफाई का फैसला होगा। झिल्ली डालाबेहरा ने 45 किग्रा वर्ग में 154 किग्रा वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता। उधर, 55 किग्रा वर्ग में सोरोइखाइबाम बिंदिया रानी ने स्वर्ण और मत्सा संतोषी ने रजत पदक जीता। पुरुष वर्ग में 55 किग्रा वर्ग में रिषिकांता सिंह ने स्वर्ण पदक जीता।