मुख्यमंत्री शिवराज छात्राओं से बोले- चिंता न करें यहां मामा है

मुख्यमंत्री शिवराज छात्राओं से बोले- चिंता न करें यहां मामा है

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को भोपाल के भेल क्षेत्र और ओल्ड सिटी के कुछ स्थानों का भ्रमण कर लॉक डाउन में दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। भेल क्षेत्र में स्थित त्रिवेणी वूमेन हॉस्टल में रह रहीं कामकाजी महिलाओं से कहा कि-आप बिल्कुल चिंतित न हों, जीवन के लिए आवश्यक खान-पान की वस्तुएं और अन्य सामग्री आपको सहज उपलब्ध रहेगी। डॉटर्स नेस्ट गर्ल्स हॉस्टल एमपी नगर जोन-2 में छात्राओं से भी बात की। चौहान ने एक अभिभावक की तरह वहां रहने वाली छात्राओं से पूछा कि मम्मी से बात करती रहती हो न, चिंता न करें, मम्मी से कहना कि मामा आए थे हालचाल जानने। घर में फोन करके बता देना मम्मी पापा से कि चिंता ना करें, यहां मामा हैं, जो हमारी चिंता कर रहे हैं। मुख्यमंत्री स्मार्ट सिटी आफिस के कंट्रोल रूम पहुंचकर कार्यरत युवाओं से पूछा, कोरोना से जंग जीत लेंगे न?

निर्माण श्रमिकों के खातों में साढ़े 88 करोड़ की सहायता

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को मध्यप्रदेश भवन एवं संनिर्माण कल्याण कर्मकार मंडल के पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के खातों में कुल 88 करोड़ 50 लाख 89 हजार रूपए की आपदा राशि एक क्लिक से अंतरित की। इससे 8 लाख 85 हजार 89 पंजीकृत निर्माण श्रमिकों में से प्रत्येक को एक हजार रुपए प्राप्त होंगे।