पहलू खान केस: मॉब लिंचिंग की जांच में 29 गलतियां:SIT 

पहलू खान केस: मॉब लिंचिंग की जांच में 29 गलतियां:SIT 

जयपुर। राजस्थान के अलवर में दो साल पहले हुई पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में एसआईटी की जांच पूरी हो गई है। एसआईटी ने शुक्रवार को 84 पेज की रिपोर्ट डीजीपी भूपेंद्र सिंह को सौंपी। इसमें पुलिस की जांच को घटिया बताया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, जांच अधिकारी ने कोर्ट में झूठा बयान दिया था कि आरोपियों के मोबाइल जब्त नहीं किए, जबकि पुलिस ने फोन जब्त किए थे। पुलिस ने पूरी जांच में 29 गलतियां की हैं। आरोपी विपिन यादव, रवींद्र यादव, कालू राम यादव, दयानंद यादव, योगेश खत्री और भीम राठी सबूतों के अभाव में 14 अगस्त को बरी हो गए थे। इसके बाद राजस्थान सरकार ने जांच के लिए एसआईटी का गठन किया था। 

गो तस्करी के शक में पहलू की हत्या हुई थी :

अलवर में 1 अप्रैल 2017 को भीड़ ने गोतस्करी के शक में पहलू खान को पीटा था। उसकी मौत हो गई थी। वह बेटों के साथ जयपुर के मेले से मवेशियों को खरीद कर हरियाणा के नूह स्थित घर ले जा रहा था। इस मामले में क्रॉस एफआईआर दर्ज की गई थीं।