एकेडमी तनाव से उबरने में बन रही सहायक

एकेडमी तनाव से उबरने में बन रही सहायक

भोपाल ।  आई गुरुकुल ट्रेनिंग एकेडमी ने अपने दो साल पूरे किए। भोपाल के रेसीडेंसी होटल में एकेडमी का एनुअल फेस्ट मनाया गया। ग्वालियर शहर से शुरू हुई यह संस्था अब भारत के बाहर भी अपनी ब्रांचेस शुरू करने जा रही है, जिसके लिए 40 मोटिवेटर स्पीकर्स और ट्रेनर को सिलेक्ट किया गया है। इन स्पीकर्स ने अपनी ट्रेनिंग और कई सर्टिफिकेशन पूरे करने के बाद स्तर हासिल किया है। पंकज सेंगर इस संस्था के प्रमुख है और लगभग 18 वर्षों से एक मोटिवेशनल स्पीकर हैं। श्री सेंगर का नाम लिम्का बुक आॅफ रिकॉर्ड में भी दर्ज हो चुका है। इस संस्था की स्थापना समाज मे फैले हुए अवसाद और तनाव को प्रसन्नता पूर्वक बड़े सरल ढंग से दूर करने के उद्देश्य से की गई है। ग्वालियर के बाद इस संस्था की स्थापना भोपाल, इंदौर, आगरा, मुंबई और दिल्ली में एनएलपी, हैप्नोसिस और माइंड कोच तैयार कर रही है। वर्तमान स्कूली शिक्षा और उसके बाद नौकरी करते समय आज का मनुष्य पूर्णरूप अथवा कुछ सीमा तक तनावग्रस्त है। इस सामाजिक ताने-बाने के गिरते स्तर व नैतिक मूल्य के पतन को रोकने के लिए इस संस्था की स्थापना की गई है।

10 को मिला सर्टिफिकेट

विभिन्न सरकारी , गैर सरकारी संस्थाओं में सफलतापूर्वक ट्रेनिंग दे रहे हैं ताकि लोगों में चेतना व आत्मिक बोध जागृत हो सके। संस्था के ट्रेनर्स मनोवैज्ञानिक एवं साइकोसोमेट्रिक बीमारियों ,तनाव,अवसाद, भय,फोबिया व समाज मे व्याप्त समस्याओं से स्वयं जीतने के गुर सिखाएंगे। कार्यक्रम में 15 ट्रेनर को एनएलपी व हैप्नोसिस प्रैक्टिशनर और 10 ट्रेनर को प्रमाण पत्र दिया गया है। मंच का संचालन प्रेमनाथ मिश्रा व निर्मला एंथोनी के द्वारा किया गया । इस दौरान बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स मौजूद थे।