मोतीझील प्लांट पर लगवाए गए 8 बॉल्व

मोतीझील प्लांट पर लगवाए गए 8 बॉल्व

ग्वालियर ।  तिघरा के पानी में पीले पानी की शिकायतों के थमने का सिलसिला नाम नहीं ले रहा है। यही कारण है कि एक बार फिर उपनगर ग्वालियर क्षेत्र में पीले व गंदे पानी को लेकर हाहाकार मचता हुआ दिखाई दिया। जबकि समस्या हल करने में जुटे निगमायुक्त संदीप माकिन ने मोतीझील प्लांट से शहरवासियों को पानी सप्लाई देने के आदेश अधीनस्थों को दिए। साथ ही पानी में आॅक्सीजन की मात्रा बढ़ाने के लिए 8 बाल्व भी प्लॉट पर लगवाने का काम किया गया है। शुक्रवार को उपनगर ग्वालियर के कई इलाकों में पीले पानी की समस्या आने पर लोगों में जबरदस्त आक्रोश देखा गया। उन्होंने निगम व पीएचई अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन अधिकारी आम लोगों को पूरी तरह से जवाब देने व संतुष्ट करने में नाकाम दिखे। इसके बाद लोगों ने लंबे समय से आ रहे पीले पानी की सीएम हेल्प लाइन सहित स्थानीय राजनेताओं से मामले की शिकायत की। जिस पर उन्होंने जल्द ही जानकारी लेकर कार्यवाही का आश्वासन दिया। उल्लेखनीय है कि पानी को बैक्टीरिया फ्री करने के लिए निगम अधिकारियों द्वारा मोतीझील व तिघरा प्लांट से होने वाले पानी सप्लाई में क्लोरिन की मात्रा दी जा रही है। जिसके चलते पानी में पीले- पानी की समस्या देखने को आ रही है। अधिकारियों की मानें तो बीमारी से बचाने के लिए बैक्टीरिया को खत्म करना जरूरी और इसके चलते आयरन व अन्य तत्व बढ़ने से पानी पीला हो रहा है, लेकिन वो घातक बीमारी से बचाने में सहायक है।