6 उद्योगों को सवा सौ करोड़ से ज्यादा की छूट

6 उद्योगों को सवा सौ करोड़ से ज्यादा की छूट

भोपाल। राज्य सरकार ने मप्र में उद्योग के क्षेत्र में निवेश करने वाली 6 कपंनियों को वाणिज्यिक कर तथा बिजली में सवा सौ करोड़ से ज्यादा की छूट दी है। वाणिज्यिक कर सहित प्लांट स्थापित करने की लागत में 10 से 40 प्रतिशत की राशि सरकार द्वारा 7 साल तक वहन की जाएगी, जबकि बिजली के रूप में इन कंपनियों से मात्र 60 पैसे यूनिट के हिसाब से पैसा वसूला जाएगा। इसके अलावा पानी सहित अन्य सुविधाओं का भी लाभ दिया जाएगा। बुधवार को सीएम कमलनाथ की अध्यक्षता में हुई उद्योग संवर्धन समिति की बैठक में इन 6 कंपनियों को 4 हजार करोड़ के निवेश को स्वीकृति प्रदान की गई।

इन प्रस्तावों को दी मंजूरी

* मेसर्स स्प्रिंगवे माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड को 1400 करोड़।

* मेसर्स प्रोक्टर एंड गेम्बल होम प्रोडक्ट्स प्रालि. को 500 करोड़।

* मेसर्स आईनॉक्स एयर प्रोडक्ट प्राइवेट लिमिटेड का 125 करोड़।

* मेसर्स एचईजी लिमिटेड का 1200 करोड़, 27 करोड़ की छूट।

* मेसर्स श्रीराम पिस्टन एंड रिंग्स लिमिटेड का 600 करोड़।

* मेसर्स वंडर सीमेंट लिमिटेड का 200 करोड़ का निवेश का प्रस्ताव।

मुख्यमंत्री कमलनाथ बोले निवेशकों का विश्वास घटा

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने स्पष्ट किया है कि प्रदेश में रोजगार और आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने वाले निवेश को प्रोत्साहित किया जाएगा। उन्हें बेहतर एवं आधुनिकतम सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि निवेश नीति को उन क्षेत्रों पर केंद्रित करेंगे जहां रोजगार अधिक है और जहां आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 15 साल में निवेशकों का विश्वास घटा है।

माह में एक बार होगी केबिनेट कमेटी की बैठक

सीएम ने निवेश संबंधी प्रस्तावों पर माह में एक बार केबिनेट कमेटी में समीक्षा के निर्देश दिए। इनमें ऐसे प्रस्ताव जिनमें नीतिगत या व्यवस्थागत कोई समस्या होगी उसका त्वरित निराकरण कर निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि टेक्सटाइल क्षेत्र में पहले से ही बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है। हमारे यहां से तैयार गारमेंट्स गुजरात एवं अन्य राज्यों में बिक्री के लिए जाते हैं। इसलिए बड़ी कंपनियों को यहां लाया जाए।