कोरोना वायरस के नए मरीज मिलने पर 11 नए इलाके कंटेनमेंट एरिया घोषित, कुल 37 क्षेत्र हुए प्रतिबंधित

कोरोना वायरस के नए मरीज मिलने पर 11 नए इलाके कंटेनमेंट एरिया घोषित, कुल 37 क्षेत्र हुए प्रतिबंधित

  नए क्षेत्र के सर्विलेंस के लिए नियुक्त किए गए दल, अब सर्दी-खांसी, बुखार जैसी बीमारियों की घर-घर हो रही स्क्रीनिंग
कोरोना वायरस के नए पॉजिटिव मरीज सामने आने पर प्रशासन द्वारा इन मरीजों के 11 घरों को एपिसेंटर घोषित किया है। इन घरों से व्यावहारिक दूरी के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया भी घोषित किया गया है। अब इंदौर में कंटेनमेंट क्षेत्रों की कुल संख्या 37 हो गई है। इन क्षेत्रों के सभी घरों का सर्वे निर्धारित प्रपत्र में प्रशासन की टीम द्वारा अनिवार्य रूप से किया जाएगा। इसके लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया गया है। 
तीन किमी के स्थान पर 
व्यावहारिक दूरी का उल्लेख
पहले प्रशासन द्वारा पॉजिटिव मरीजों के घरों से तीन किमी के क्षेत्र को कंटेनमेंट घोषित किया जाता था, लेकिन अब तीन किमी के स्थान पर व्यवहारिक दूरी तक का उल्लेख किया जा रहा है। 
आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित
प्रशासन के अनुसार, कंटेनमेंट क्षेत्र में आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा। यहां रहने वाले सभी लोगों की जांच की जाएगी एवं कोरोना वायरस के संभावित लक्षण जैसे बुखार, खांसी, गले में दर्द एवं सांस लेने में तकलीफ आदि नजर आने पर होम क्वॉरेंटाइन कर जांच की जाएगी। जांच का परिणाम आने तक जिनको होम क्वारेंटाइन किया गया है, उनका प्रतिदिन फॉलोअप लिया जाएगा। नगर निगम द्वारा नए घोषित किए गए कंटेनमेंट क्षेत्र को सैनिटाइज किया जा रहा है। विशेष बात यह है कि मेडिकल कॉलेज गर्ल्स हॉस्टल भी कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया गया है, क्योंकि यहां रहने वाली एक छात्रा की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
इन घरों को बनाया एपिसेंटर
1) मेडिकल कॉलेज गर्ल्स हॉस्टल
(2) 50-बी स्नेहलता गंज
(3) 288/4 संवाद नगर
(4) 17 उदापुरा
(5) 28/3 इकबाल कॉलोनी
(6) 107 अंबिकापुरी कॉलोनी, एरोड्रम रोड
(7) 91-सी गांधी नगर
(8) 39/2 मोती तबेला
(9) गली नंबर 11 चंदन नगर
(10) अलशिफा मेडिकल 
नए कंटेनमेंट क्षेत्र के लिए गठित दल
(1) मेडिकल गर्ल्स हॉस्टल और संवाद नगर क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर कैलाश वानखेड़े (9425101644) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(2) स्नेहलतागंज क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर पवन जैन (9425066016) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(3) उदापुरा क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर दिनेश जैन (9407183093) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(4) इकबाल कॉलोनी और अंबिकापुरी कॉलोनी क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर कैलाश वानखेड़े (9425101644) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(5) गांधी नगर क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर पवन जैन (9425066016) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(6) मोती तबेला क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर दिनेश जैन (9407183093) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(7) बेटमा क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर पवन जैन (9425066016) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
(8) सुखलिया क्षेत्र के लिए अपर कलेक्टर दिनेश जैन (9407183093) को इंसीडेंट कमांडर बनाया गया है।
 400 आशा कार्यकर्ता प्रभावित क्षेत्रों में संभालेंगी मोर्चा
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग कमर कसे हुए हैं। इंदौर में तेजी से कोरोना संक्रमितों के बढ़ते मामलों के साथ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे कार्य भी तेज किया जा रहा है। इसी क्रम में 200 कंटेनमेंट एरिया सर्वे टीम का गठन किया गया है। यह टीम शनिवार से मोर्चा संभालेगी। एक टीम में एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और एक आशा कार्यकर्ता होगी। इस प्रकर 400 लोग प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे का कार्य करेंगे।
एप के जरिये करेंगे सर्वे- सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि कंटेनमेंट एरिया सर्वे टीम उन क्षेत्रों में जाएगी, जहां कोरोना संक्रमण के पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ये टीम एप के माध्यम से सर्वे करेगी। कोरोना संक्रमित के पहले कॉन्टेक्ट और दूसरे कॉन्टेक्ट से सर्वे फॉर्म भरवाया जाएगा। जिसमें संदेही कहां गया था, किससे मिला था, क्या ट्रेवल हिस्ट्री रही, जैसे कई बिन्दुओं पर फॉर्म भराया जाएगा और सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर उनका परीक्षण के लिए सैंपल भी लिया जाएगा।
कोरोना से ठीक होेने वाले मरीजों को अगले सप्ताह से भेजेंगे घर
कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज बेहतर ढंग से किया जा रहा है। अधिकांश मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। ऐसे मरीजों को अगले सप्ताह उनके घर भेजने का सिलसिला शुरू किया जाएगा। यह निर्णय कलेक्टर मनीषसिंह ने शुक्रवार को डॉक्टरों की बैठक के बाद लिया। उन्होंने कहा कि स्थिति धीरे-धीरे नियंत्रण में आने लगी है। इस बीमारी से घबराने की बात नहीं है, क्योंकि कोरोना पॉजिटिव वही लोग आ रहे हैं जो पहले से क्वारेंटाइन में हैं। तब्लीगी जमात के बाद इंदौर आए 25 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। 
जल्द खोलेंगे स्टोर्स- सिंह ने कहा कि आॅनलाइन आॅर्डर लेने वाले स्टोर्स को भी जल्द ही खोल दिया जाएगा। वह घर-घर जाकर घरेलू सामान की सप्लाई कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि अब सर्दी-खांसी, बुखार जैसी बीमारियों की घर-घर स्क्रीनिंग की जा रही है।