जालियांवाला कांड पर ब्रिटेन ने जताया दु:ख, नहीें मांगी माफी

जालियांवाला कांड पर ब्रिटेन ने जताया दु:ख, नहीें मांगी माफी

लंदन। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने जालियांवाला बाग नरसंहार को ब्रिटिश भारतीय इतिहास पर शर्मनाक धब्बा करार दिया है। हालांकि, ब्रिटिश राज में हुए इस नरसंहार के लिए उन्होंने औपचारिक माफी नहीं मांगी है। अमृतसर के जालियांवाला बाग में जमा हुए निहत्थे लोगों को घेरकर चारों तरफ से गोलियां चलाई गई थी, जिसमें बड़ी संख्या में लोगों की मौत हुई थी। ब्रिटिश संसद के निचले सदन हाउस आॅफ कॉमंस में जालियांवाला बाग नरसंहार पर बहस के दौरान सभी दलों के सदस्यों ने सरकार से माफी मांगने की मांग की थी। लेकिन टेरीजा मे अपने सालाना साप्ताहिक प्रश्नोत्तर कार्यक्रम में इस घटना को लेकर माफी नहीं मांगी। उन्होंने भी इस घटना पर खेद जताया।